13 घंटे खौफ के साये में रहे मासूम बच्चे, पुलिस ने ड्रोन की मदद से सिरफिरे को किया ढेर

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में गुरुवार को एक व्यक्ति द्वारा बर्थडे पार्टी देकर 30 बच्चों और महिलाओं को बंधक बनाने का मामला पुलिस द्वारा सुलझा लिया गया है। बतादे कि आरोपी ने बर्थडे पार्टी के बहाने 20 बच्चों और महिलाओं को घर में बंधक बना लिया था। इस घटना के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने उच्चस्तरीय बैठक बुलाई थी।

गुरुवार को बच्चों को बचाने का ऑपरेशन दोपहर से शरू हुए जो देर रात करीब डेढ़ बजे जाकर ख़त्म हुआ। पुलिस ने बताया कि ऑपरेशन के दौरान सिरफिरे सुभाष बाथम की मौत हो गई।

वही टीवी रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि आरोपी पर हत्या का मामला दर्ज था और उसे उम्र कैद की सजा सुनाई गई थी। जिसके निपटारे के लिए उसने बच्चों समेत अन्य लोगों को बंधक बनाने की योजना बनायीं।

इस पूरे मामले पर यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया था आरोपी ने 20 बच्चों को बंधक बनाया है अंदर से फायरिंग भी की गई है जिसमें दो पुलिसकर्मी घायल हुए हैं NSG को भी इस घटना की सूचना दे दी गई है पुलिस और जिले के बड़े अधिकारी घटनास्थल पर मौजूद हैं।

कानपुर जोन के आईजी मोहित अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी ने बच्चों को बर्थडे पार्टी के बहाने अपने घर बुलाया और घर के नीचे बने हुए बेसमेंट में सब को बंधक बना दिया था।

आरोपी मकान के अंदर से 6 राउंड गोली भी चला चुका था। पुलिस ने उसे समझाने के लिए एक रिश्तेदार को घर के करीब भेजा लेकिन आरोपी ने रिश्तेदार पर भी गोली चला दी जिससे वह घायल हो गया इस आरोपी का नाम सुभाष बाथम है।

सुभाष बाथम की मांग थी की उसके खिलाफ दर्ज मामले वापस लिए जाएं। तभी वो बच्चो व अन्य लोगो को छोड़ेगा। बच्चो की वजह से पुलिस कोई खतरा मोल नहीं लेना चाहती थी। उसे बातो में उलझकर बच्चो व अन्य लोगो को छुड़ाया गया।

Check Also

CM योगी आदित्यनाथ ने टीम 11 की बैठक में अफसरों को दिए निर्देश

उत्तर प्रदेश: सीएम योगी आदित्यनाथ ने टीम 11 की बैठक में अफसरों को स्वास्थ्य विभाग …