अफवाह का शिकार हुआ ईरान, मेथेनॉल पीने से खत्म होगा कोरोना वायरस, और चली गई 300 लोगों की जान

चीन से शुरू होकर कोरोना वायरस पूरी दुनिया में भयंकर तबाही मचा दी है, इस वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 20 हजार पार कर गया है। लेकिन कोरोना वायरस को लेकर सोशल मीडिया पर अफवाहें भी खूब उड़ रही हैं। ईरान में भी एक अफवाह ने करीब 300 लोगों की जान ले ली। दरअसल, ईरान में एक अफवाह उड़ी कि मेथेनॉल पीने से कोरोना वायरस से उपजे महामारी कोविड-19 से लोग ठीक हो सकते हैं, बस देखते ही देखते इसका सेवन इतने लोगों ने कर लिया कि 300 लोगों की मौत हो गई और 1000 लोग बीमार पड़ गए।

समाचार वेबसाइट डेली मेल दवारा इस बात का खुलासा हुआ है कि, पूरे इस्लामिक रिपब्लिक में मेथेनॉल का सेवन करने से 300 लोगों की मौत हो गई और अब8 तक 1000 लोग बीमार हो चुके हैं। बता दें कि ईरान में अल्कोहल पीना बैन है और मेथेनॉल नशीला पदार्थ होता है। नशीले पदार्थ मेथनॉल से मौतों की ये खबर ऐसे वक्त में आई है, जब तेहरान ने शुक्रवार को 144 नए मौत के मामलों की घोषणा की है। कोरोना वायरस से ईरान में अब तक 2378 लोगों की मौत हो चुकी है और 2926 नए मामलों के साथ इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 32300 हो गई है।

ईरान में कुछ लोगो दवारा सोशल मीडिया पर कोरोना वायस से बचने की यह अफवाह काफी तेजी से फैलाई गई। इसके बारे में कोई जानकारी न होने की वजह से लोगों ने बिना तथ्यों की जांच किए मेथनॉल का सेवन कर लिया। ओस्लो में मेथेनॉल प्वाइजनिंग पर अध्ययन करने वाले डॉ नॉट एरिक ने बताया कि ईरान में वायरस फैल रहा है और लोग इससे तेजी से मर रहे हैं और मुझे लगता है कि वे इस तथ्य के बारे में भी कम जानते हैं कि आस-पास अन्य खतरे भी हैं। उन्होंने आशंका जताई कि ईरान में कोरोना का प्रकोप और भी बदतर हो सकता है।

एक अफवाह ये भी है कि, अल्कोहल पीने से कोरोना ठीक हो सकता है। यह अफवाह भारत में भी फैल रही है।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …