सुलेमानी की मौत के बाद ईरान ने जामकरन मस्जिद पर फहराया लाल झंडा, अमेरिका और ईरान में जंग तय

अमेरिका द्वारा इराक में किए गए मिसाइल हमले में ईरान के मिलिट्री जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बाद अब ईरान और अमेरिका आमने-सामने है। वहीं ईरान ने जामकरन मस्जिद पर लाल झंडा फहरा दिया है जिसका मतलब होता है युद्ध का ऐलान। जिसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने धमकी देते हुए ईरान से कहा कि अगर हमला हुआ तो वह उसके 52 ठिकानों पर हमला करने के लिए तैयार हैं।

माना जा रहा है कि ईरान और अमेरिका के बीच चल रहे तनाव तीसरे विश्व युद्ध का रूप ले सकता है। कई बड़े देश ईरान और अमेरिका से संयम बरतने की गुजारिश कर रहे हैं।

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और तुर्की के राष्ट्रपति टेयिप एरडोगान से अलग-अलग फोन पर बात कर मध्य-पूर्व क्षेत्र की स्थिति पर बात की। जिसमें तीनों नेताओं ने मिलकर मध्य-पूर्व क्षेत्र में स्थिति पर गहरी चिंता जताई और संयम से काम लेने की गुजारिश की है।

वही कतर और लेबनान के विदेश मंत्रालय ने भी बयान जारी कर कहा है कि दोनों देश संयम से काम लें ताकि मध्य पूर्व क्षेत्र के हालत ना बिगड़े। ईरान के मिलिट्री जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बाद शनिवार रात इराक में ईरान ने अमेरिकी ठिकाने पर हमला कर दिया था। जिसके बाद ट्रंप ने धमकी देते हुए कहा था कि अगर ईरान ने हमला किया तो उसके 52 ठिकानों को निशाना बना सकते हैं।

बतादे की एएफपी न्यूज एजेंसी के अनुसार अमेरिकी दूतावास पर दो राकेट दागे गए थे जहां अमेरिकी सेना तैनात हैं। रायटर्स के अनुसार, बगदाद में अमेरिकी दूतावास के पास भी हमला किया गया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार इस हादसे में अभी तक किसी के घायल होने की खबर नहीं है।

Check Also

पाकिस्तान प्लेन क्रैश का वीडियो आया सामने, 2 लोगो के जिन्दा होने की खबर

शुक्रवार को पाकिस्तान इंटरनेशनल की फ्लाइट A320 लैंडिंग से ठीक पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी। …