Ishant sharma tells the challenges have to face in day night test match with Pink ball at Motera stadium against England Virat kohli vs Joe Root IND vs ENG test series 2021

0


भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज का तीसरा मैच 24 फरवरी से अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में खेला जाएगा। विश्व के सबसे बड़े क्रिकेट मैदान पर यह पहला इंटनेशनल मैच होगा। इसके साथ ही यह पहला मौका होगा जब भारत और इंग्लैंड की टीम एक दूसरे के खिलाफ पिंक बॉल से डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने उतरेंगी। भारत का रिकॉर्ड पिंक बॉल से अबतक कुछ खास नहीं रहा है और सीरीज के नतीजे से लिहाज से यह मुकाबला काफी अहम माना जा रहा है। इसी बीच,  ईशांत शर्मा ने डे-नाइट टेस्ट में  गेंदबाजों को आने वाली चुनौतियों को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है। 

स्वीमिंग पूल में बेटे अगस्त्य के साथ नजर आए हार्दिक, वायरल हुई PHOTO

 वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह पूछने पर कि क्या भारतीय गेंदबाज सूर्यास्त के समय शॉर्ट गेंद की रणनीति का इस्तेमाल करेंगे, ईशांत ने कहा, ‘एक बार जब हम इस मैदान पर खेलने उतरेंगे तो हमें इस बारे में पता चलेगा क्योंकि इसका नवीनीकरण किया गया है और अभी मैं कुछ नहीं कह सकता। हम कुछ नहीं कह सकते कि किस चीज से बल्लेबाज को परेशानी होगी और किससे नहीं, काफी चीजें हैं जिन्हें हमें परखना होगा, हमें नहीं पता कि हम इन चीजों से कैसे निपटेंगे, ओस भी होगी। हां विकेट कैसी होगी और वह (इंग्लैंड) कैसे खेलेंगे, बेशक दूधिया रोशनी में गेंद स्विंग करेगी, लेकिन आपको ओस से निपटना होगा इसलिए काफी चीजें होंगी और आप सीधे तौर पर नहीं कह सकते कि मैच में किसी पलड़ा भारी होगा, तेज गेंदबाजों का या स्पिनरों का।’

IND vs ENG: फिटनेस टेस्ट पास करने के बाद उमेश यादव की हुई टीम इंडिया में एंट्री, तीसरे टेस्ट में सिलेक्शन के लिए होंगे

ईशांत ने कहा कि डे-नाइट टेस्ट के दौरान एक सेशन के अंदर ही मैच बदल सकता है। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि एक सेशन में खेल बदल सकता है और प्रत्येक गेंदबाज को सेशन दर सेशन जिम्मेदारी निभानी होगी, क्या पता शुरुआत से ही गेंद टर्न करने लग जाए। क्या पता पहले दो सत्र में ही स्पिनरों को मदद मिले लेकिन दूधिया रोशनी में जब ओस होगी तो गेंद स्विंग नहीं करेगी, यह तेजी से आएगी और बल्ले पर आसानी से आएगी। तब स्पिनर मुकाबले में नहीं होंगे, तेज गेंदबाज होंगे इसलिए यह स्थिति पर निर्भर करता है और उस समय गेंद और विकेट कैसा बर्ताव करते हैं।’



Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।