India-China Disengagement: भारत-चीन के बीच बॉर्डर पर जारी तनाव के बीच ITBP के डीजी का बड़ा बयान आया सामने, पेट्रोलिंग को लेकर कही ये बड़ी बात

India-China Disengagement: भारत-चीन के बीच बॉर्डर पर जारी तनाव के बीच ITBP के डीजी का बड़ा बयान आया सामने, पेट्रोलिंग को लेकर कही ये बड़ी बात

ITBP के डीजी और बॉर्डर (Photo Credits-ANI/AFP)

नई दिल्ली, 23 फरवरी 2021. भारत और चीन के बीच बॉर्डर (India-China Disengagement) पर जारी तनाव को लेकर बयानबाजी लगातार हो रही है. कांग्रेस सहित तमाम दलों ने इस मामले को लेकर केंद्र की मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा किया है. इसके साथ ही चीन को आर्थिक मोर्चे पर भारत ने काफी नुकसान पहुंचाया हुआ है. गलवान घाटी में नापाक हरकत के बाद भारत ने बड़ी तादात में चीनी एप्स पर बैन लगाया है. हालांकि यह मामला अब धीरे-धीरे सुलझ रहा है. पैंगोंग झील से भारत और चीन की सेना पीछे हट रही है. इसी बीच आईटीबीपी के डीजी ने पेट्रोलिंग पर बात करते हुए कहा कि हमारे सारे बीओपी बॉर्डर पर हैं और लगातार वहां पर हमारी तैनाती रहेगी.

भारत-चीन के बीच कुछ प्वाइंट पर हुई डिसइंगेजमेंट के बाद आईटीबीपी की पेट्रोलिंग पर डीजी ने कहा कि हमारे सारे बीओपी बॉर्डर पर हैं और लगातार वहां पर हमारी तैनाती रहेगी. द्विपक्षीय समझौते के मुताबिक आर्मी थोड़ा पीछे आएगी लेकिन सभी पोस्ट पर हमारी तैनाती रहेगी और पेट्रोलिंग भी जारी रहेगी. यह भी पढ़ें-India-China Border Tension: लोकसभा में राजनाथ सिंह ने बताया- पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील क्षेत्र से सेनाओं के पीछे हटने का चीन के साथ समझौता हुआ

ANI का ट्वीट-

गौरतलब है कि इससे पहले भारत-चीन बॉर्डर मसले को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि भारत की जमीन से चीनी सैनिक पीछे हट गए हैं और हमने कुछ नहीं खोया है. सिंह ने यह भी जानकारी दी थी कि दोनों सेनाओं के बीच पैंगोंग झील क्षेत्र में पीछे हटने पर सहमति बनी है.




Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।

Check Also

कोरोना के नए मामलों के कारण बढ़ी सख्ती, जानें कश्मीर से कन्याकुमारी तक का हाल

पांच राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी के बाद चिंता बढ़ गई है। …