जयाप्रदा ने किया खुलासा किस हद तक पीछे पड़े थे आजम खान, मेरे ऊपर वो…..

0
3654
photo credit: upuklive
Loading...

उत्तर प्रदेश: क्वींसलाइन लिटरेचर फेस्टिवल में अभिनेत्री से नेता बनी जयाप्रदा ने राइटर राम कमल से बात करते हुए बताया की, वह अमर सिंह को अपना ‘गॉडफादर’ मानती हैं लेकिन अमर सिंह के साथ अपने संबंधो पर बात करते हुए कहा की अगर मै अमर सिंह को राखी भी बांध दूँ। तब भी लोग उनके बारे में नीच बाते करेंगे।

उस दौरान सपा के वरिष्ठ नेता और रामपुर से विधायक आजम खान पर कई गंभीर आरोप लगाए। और इस बात का दावा भी किया की आजम खान मुझे मरवाने के लिए तेजाब हमला करवाने की फ़िराक में थे। जयाप्रदा ने आगे बताया की मै जिस परिस्थिति में थी मेरी मदद करने कोई नेता नहीं आया। सपा के पूर्व मुखिया मुलायम सिंह जी ने भी एक बार फोन तक मुझे नहीं किया।

जयाप्रदा ने ये भी बताया की जब वह आजम खान के साथ चुनाव लड़ रही थी तो किन दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। परिस्थिति यह थी की हर समय मेरी जान को खतरा रहता था। जब घर से बाहर निकलती थी तो अपनी मां से यह नहीं कह सकती थी की जिन्दा घर लौटूंगी की नहीं। उन्होंने उस घटना का भी जिक्र किया जब उनके फोटो को दुर्भावनापूर्ण बदलाव कर सोशल मीडिया पर वायरल किया गया था। तब जयाप्रदा आत्महत्या करने के बारे में तय कर लिया था। उस समय अमर सिंह डायलिसिस पर थे।

आगे बताया की ”डायलिसिस से आने पर सिर्फ अमर सिंह जी मेरे साथ खड़े हुए, मेरा समर्थन किया. आप उनके बारे में क्या सोचते हैं? गॉडफादर या फिर कोई और? यदि मैं उन्हें राखी भी बांध दूं तब क्या लोग बातें करना बंद कर देंगे ? लोग क्या कहते हैं मुझे इसकी परवाह नहीं. उन्होंने कहा कि पुरूष प्रधान इस व्यवस्था में किसी महिला के लिए नेता बनना असली चुनौती है.”

जयाप्रदा ने उदहारण देकर कहा की फिल्म ‘मणिकर्णिका’ में जो कुछ भी दिखा रहे है। मै वो सब महसूस कर रही हूँ। लेकिन एक महिला दुर्गा का अवतार भी ले सकती है।

Loading...