केरल: प्रेग्नेंट हथिनी की मौत पर दुखी रतन टाटा कहा, ‘इंसाफ होना चाहिये’

केरल में एक गर्भवती हथिनी के मुँह में पटाखों से भरा एक अनानास खिलाने से हुई मौत से रतन टाटा भी दुःखी है। उनहोंने ट्विटर पर कैरिकेचर पोस्ट कर इंसाफ की माँग की है।

रतन टाटा ने ट्विटर पर कैरिकेचर पोस्ट किया है जिसमे उनकी सिग्नेचर भी मौजूद है लिखा है, मैं यह जानकार बहुत दुखी और हैरान हूं कि कुछ लोगों के एक समूह ने एक मासूम, कोई हानि न करने वाले, प्रेग्रेंट हाथी की हत्या उसे पटाखों से भरा अनानास (Pineapple) खिलाकर कर दी.मासूम जानवरों के प्रति ऐसे आपराधिक काम, सोची-समझी रणनीति के तहत इंसानों की हत्या से बिल्कुल अलग नहीं हैं.न्याय किये जाने की जरूरत है.”

वही चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डेन सुरेंद्र कुमार ने जानकारी देते हुए बताया था की, केरल के साइलेंट वैली जंगल के पास बसे गांव के कुछ शरारती लोगो ने पटाखों से भरा अनानास खिला दिया। जब गर्भवती हथिनी ने चबाया तो उसका जबड़ा टूट गया था। 27 मई को केरल के मलप्पुरम जिले में वेल्लियार नदी में गर्भवती हथिनी ने दम तोड़ दिया था।

वही रेस्क्यू टीम में शामिल रहे मोहन कृष्णन ने फेसबुक पर लिखा, “मादा हाथी खाने की तलाश में जंगल से पास के गांव में पहुंच गई थी। यहां वह इधर-उधर घूम रही थी। इसके बाद उसे कुछ लोगों ने पटाखे भरे अनानास खिला दिए। पटाखे इतने असरदार थे, कि उसका मुंह और जीभ बुरी तरह से जख्मी हो गए। वह खाने की तलाश में पूरे गांव में भटकती रही। दर्द के चलते वह कुछ खा भी नहीं सकी। मादा हाथी ने घायल होने के बावजूद किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया, किसी पर हमला भी नहीं किया। वह बहुत सीधी और शांत थी।”

मोहन कृष्णन ने आगे लिखा, “मादा हाथी खाने की खोज में वेल्लियार नदी तक पहुंच गई क्योंकि उसके पेट में बच्चा था। वो पानी में खड़ी हो गई। पानी में मुंह डालने से उसे थोड़ा आराम भी मिला।”

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …