कोरोना वायरस के बीच फंसे लालू प्रसाद यादव, जान खतरे में बनी, पढ़िए किया है मामला

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जान खतरे में बानी हुई है, फ़िलहाल लालू यादव राजेंद्र इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) में भर्ती है। जहां पर कोरोना वायरस मामलों की जांच के लिए आइसोलेशन वार्ड स्थापित किया जा रहा है। आरजेडी समर्थकों ने इसका विरोध भी किया है। आरजेडी समर्थकों का कहना है कि, ‘अस्पताल में लालू यादव भर्ती हैं, कई लोग उनसे मिलने आते हैं। लिहाजा इस प्रकार के आइसोलेशन वार्ड को कहीं और स्थापित किया जाना चाहिए।’

पेइंग वार्ड के फर्स्ट फ्लोर पर लालू यादव भर्ती हैं, और झारखंड सरकार के निर्देश पर रिम्स प्रबंधन की ओर से तीसरे फ्लोर पर आइसोलेशन विंग स्थिापित किया जा रहा है। इस विंग में 18 कमरे हैं। चीन समेत अन्य देशों से आनेवाले लोगों को यहां भर्ती कर जांच के लिए उनका ब्लड सैंपल लिया जाएगा। संक्रमण की पुष्टि होने पर मरीज का उपचार भी यहीं होगा।

इस बीच रिम्स के निदेशक दिनेश कुमार सिंह ने कहा कि 20 हजार मास्क मंगवाए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि सतर्कता के अलावा भ्रम और अफवाह से बचें। दिनेश कुमार ने कहा,‘झारखंड के पड़ोसी राज्यों में एक भी मरीज नहीं मिला है। इसलिए चिंता की बात नहीं है। इसके बावजूद हम पूरी तरह तैयार हैं। भीड़ वाले इलाके में जाने से बचें। हाथों की सफाई करें।’

स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों ने शुक्रवार को इस वार्ड का निरीक्षण भी किया। इस बाबत मॉक ड्रिल भी कराई गई। इसमें कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के आनन-फानन अस्पताल में भर्ती होने की परिस्थिति में डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ को किस प्रकार से प्रोटोकॉल का पालन करते हुए उसका उपचार करना है, इसे दर्शाया गया।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …