दिल्ली में हुडदंगई के बाद शराब हुई महंगी, लगा अलग से 70 प्रतिशत ‘स्पेशल कोरोना टैक्स’

नई दिल्ली: लॉकडाउन के बीच दिल्ली सरकार द्वारा शराब की दुकानों को खोलने के बाद सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के पालन को लेकर फेल साबित हुई। जिसके बाद दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने दुकानों पर भीड़ से बचने के लिए दिल्ली सरकार को शराब की बिक्री का समय बढ़ाए जाने का सोमवार को एक रिपोर्ट तैयार कर सुझाव दिया है।

दिल्ली में चल रहे लगातार लॉकडाउन के बाद सोमवार को 40 दिन से ज्यादा समय के बाद शराब की दुकानें खुली। इसके बाद जबरदस्त भीड़ उमड़ पड़ने की वजह से उन्हें बंद करना पड़ा। क्योंकि शराब की दुकान के बाहर जमा हुए लोग सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहे थे। वहीं दिल्ली सरकार अब शराब पर अलग से 70 प्रतिशत ‘विशेष कोरोना शुल्क’ लगाने का फैसला कर लिया है जो मंगलवार से लागू हो जाएगा।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार, “दिल्ली सरकार ने शराब के अधिकतम खुदरा मूल्य पर 70 प्रतिशत ‘विशेष कोरोना शुल्क’ लगाया है जो आज मंगलवार से लागू होगा।” सरकार के इस फैसले से कोरोना वायरस की वजह से किए गए लॉकडाउन से बुरी तरह प्रभावित हुए रेवेन्यू को बल मिलेगा।

वही शराब खरीदने को लेकर लोगों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार की गाइडलाइन के बाद हम रेड जोन में होते हुए भी कुछ शर्तों के साथ आर्थिक गतिविधि को छूट दी थी। लेकिन आज जिस तरीके से कुछ जगहों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया है हमें बिल्कुल भी मंजूर नहीं है अगर आगे से ऐसी घटना देखने को मिलती है तो हम उस इलाके को सील कर देंगे।

केजरीवाल ने आगे कहा कि शराब बेचते समय दुकानदारों को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। कुछ लोगों की वजह से हम पूरी दिल्ली को जोखिम में नहीं डाल सकते। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का यह बयान शराब की बिक्री के दौरान हुई अफरातफरी के बाद सोमवार शाम को आया है।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …