‘लॉक डाउन: भूखे ही सैकड़ों लोग पैदल ही यूपी-बिहार रवाना होने को मजबूर’

भारत की सड़को पर लॉकडाउन के चलते सन्नाटा पड़ा हुआ है, लेकिन प्रदेश के फंसे कुछ कुछ मजबूर कदम सामान लादे एक लंबे सफर पर निकल चुके हैं। उनका यह सफर कितने दिनों में पूरा होगा इस बात की जानकरी तो हम आपको नहीं दे सकते,

लेकिन उनकी हिम्मत को सलमा ज़रूर करेंगे। बड़े शहरों में रोटी के लिए जूझते इन छोटे मजदूरों ने लॉकडाउन में भी अपने घर जाने का फैसला कर लिया है। सफर इतना लंबा है कि, कोई दिल्ली से अलीगढ़ जा रहा है, तो कोई बिहार या फिर झारखंड… वो भी केवल पैदल।

उनके हौसले को सलाम उनके इरादे मजबूत हैं। साथ में बच्चे और महिलाएं भी मौजूद हैं। सब इस उम्मीद में शहर से निकल रहे हैं कि अपने गांव जाकर कम से कम भूखे नहीं मरेंगे। बता दें, पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन है। ताकि कोरोना को हराया जा सके। लेकिन इन मजदूरों का जीवन इस लॉकडाउन में भी संघर्ष करते बीत रहा है।

इनके पास न खाना है, न पानी। बस 2 दिन से चले जा रहे हैं। घर पहुंचना है। अगर रास्ते में कुछ मिल जाएगा, तो खा लेंगे। दिल्ली से बुढाना तकरीबन 285 किलोमीटर दूर है। लेकिन यह पैदल ही निकल चुका है। इसके साथ कई लोग हैं जो बिना पानी-खाने के अपने घर अलीगढ़ जा रहे हैं।

जिसकी उम्र केवल 10 साल बताई जा रही है। जोकि पैदल गाजियाबाद से मथुरा जा रहा है। कंधे पर बैग उठाए है और बस बढ़े जा रहा है। आपको बता दें कि कोरोना वायरस ने दुनिया में अफरा-तफरी मचा दी है। 18 हजार से अधिक लोग इस वायरस से मर चुके हैं। 4 लाख से ज्यादा इससे संक्रमित पाए गए हैं। लगभग पूरी दुनिया लॉकडाउन है। देखिये इन मजबूर मजदूरों की तस्वीरें…

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …