लॉकडाउन ने छीना रोजगार तो साइकिल पर निकले अपने घर, छत्तीसगढ़ के मजदूर दंपति की सड़क हादसे में मौत

0

लॉकडाउन की वजह से रोजगार छीन जाने के चलते छत्तीसगढ़ के मजदूर दंपति लखनऊ से साइकिल पर ही अपने गांव लौट रहे थे लेकिन मजदूर दंपति की सड़क हादसे में मौत हो गई है। यह मजदूर दंपति परिवार जो लखनऊ के जानकीपुरम इलाके में रहता था। लॉकडाउन ने रोजगार छीन लिया था पेट की भूख इन्हें अपने घर बेमेतरा जाने के लिए मजबूर कर दिया।

बुधवार देर रात मजदूर दंपति साइकिल से ही अपने घर के लिए रवाना हुआ था लेकिन लखनऊ के शहीद पथ पर किसी अनजान वाहन ने टक्कर मार दी। हादसे में मजदूर दंपति की इलाज के दौरान मौत हो गई वही गंभीर रूप से घायल दोनों बच्चों को इलाज के लिए लोहिया अस्पताल में भर्ती किया गया है। मृतकों की पहचान कृष्णा और प्रमिला के रूप में हुई है।

लखनऊ पुलिस के डीसीपी सोमेन वर्मा ने जानकारी देते हुए कहा कि यह हादसा सुशांत गोल्फ सिटी थाना क्षेत्र में शहीद पथ पर हुआ है मजदूर दंपति की मौत हो चुकी है लेकिन दो बच्चे 3 साल का निखिल और 4 साल की बेटी चांदनी घायल है जिनका लोहिया अस्पताल में इलाज चल रहा है।

मजदूर कृष्ण के भाई राजकुमार ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से भाई के पास कोई रोजगार नहीं था। बचे पैसे भी खत्म हो चुके थे जिसके बाद उसने घर लौटने का फैसला किया था। कृष्णा के भाई राजकुमार ने भी आर्थिक तंगी की वजह से चंदा लेकर पति-पत्नी का अंतिम संस्कार किया है।

जब इस घटना की जानकारी छत्तीसगढ़ की सरकार को हुई तो मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारी टि्वटर अकाउंट सीएमओ छत्तीसगढ़ की तरफ से ट्वीट किया गया था ट्वीट में लिखा है कि, “श्रमिक साथियों की संख्या बहुत अधिक है, हमने रेल मंत्रालय से ट्रेनें मांगी हैं, हम उनके जवाब की प्रतीक्षा कर रहे हैं ताकि हम अपने श्रमिक साथियों को सकुशल वापस ला सकें।यह दुर्घटना दुःखद है।”