लॉकडाउन: ठेला पर कैंसर पीड़ित महिला का इलाज करवाने जा रहे थे अस्पताल, अस्पताल के गेट पर महिला की मौत

कोरोना वायरस वैश्विक महामारी वजह से देशभर में लॉकडाउन लागू किया गया है इसी बीच झारखंड के जामताड़ा में कैंसर पीड़ित मरीज को अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिलने पर घरवाले ठेला पर लादकर इलाज करवाने के लिए चल दिए। जब तक घर वाले मरीज को लेकर ठेला पर 3 किलोमीटर का सफर तय कर चुके थे तब डीसी को इस मामले की जानकारी मिली तो उन्होंने तुरंत एंबुलेंस की व्यवस्था कराई।

महिला जैसे ही अस्पताल पहुंची वैसे ही उसकी मौत हो गई। परिवार वालों ने बताया कि बुधुडीह की रहने वाली ममता देवी कैंसर से पीड़ित थी और शनिवार की रात लगभग 10 बजे अचानक से उनकी तबीयत खराब हुई। परिवार ने 108 नंबर पर फोन कर एंबुलेंस माँगी परंतु उस समय कोई भी एंबुलेंस मौजूद नहीं थी इसके बाद परिजन ठेला पर ही महिला मरीज को लेकर सदर अस्पताल जाने लगे।

सदर अस्पताल पहुंचने पर पता चला कि महिला मरीज की पहले ही मृत हो चुकी है। परिवार वालो ने बताया कि जब हम अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टर ने देखकर कहा कि मरीज की पहले ही मृत्यु हो चुकी है।

वही मरीज की मृत्यु के बाद शव को सिविल सर्जन ने एंबुलेंस के माध्यम से घर पहुंचाया। इस मामले पर उपायुक्त गणेश कुमार ने बताया कि जैसे ही मुझे जानकारी हुई कि परिवार मरीज को ठेले पर रखकर अस्पताल ले जा रहा है मैंने तुरंत सिविल सर्जन से बात करें एंबुलेंस उपलब्ध कराई। परिजनों ने एंबुलेंस के लिए विभाग से फोन कर मांग की थी कि नहीं इसकी जांच कराई जाएगी।

Check Also

केरल: गर्भवती हथिनी को खिलाया पटाखों से भरा अनानास, जबड़ा फटा, हो गयी गर्भवती हथिनी की दर्दनाक मौत

केरल में कुछ शरारती लोगो ने एक गर्भवती हथिनी के मुँह में पटाखों से भरा …