सपने में रोते हुए आये भगवान श्रीराम, मन्दिर न बनने से है बहुत दुखी- वसीम रिज़वी

0
119

उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री दर्जा प्राप्त वसीम रिज़वी मुसलमान होते हुये भी बेतुका बयान दिया है। उन्होंने कहा की बीती रात सपने में भगवान श्रीराम को रोते हुए देखा। वह अयोध्या में राममंदिर निर्माण को लेकर बहुत दुखी थे। रिज़वी की इन्हीं हरकतों की वजह से कोई तवोज्जह नहीं देता। शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमेन वसीम रिजवी एक बार फिर चर्चा का विषय बने हुये है। मंगलवार को जारी एक बयान में वसीम रिज़वी ने कहा कि बीती रात सपने में उन्होंने भगवान श्रीराम को रोते हुए देखा। वह बहुत दुखी थे। अयोध्या में राममंदिर निर्माण की एक बार फिर पुरजोर कोशिश करते हुये उन्होंने देश के कट्टरपंथी मुसलमानों पर जमकर हमला बोला।

अयोध्या में राममंदिर निर्माण का एक बार फिर पक्ष लेते हुये वसीम रिज़वी ने कहा की, पाकिस्तान के झंडे को इस्लाम का झंडा समझकर उससे मोहब्बत करने वाले कट्टरपंथी मुसलमान अयोध्या में राम जन्मभूमि पर बाबरी पंजा जमाए हुए हैं। उन्होंने आगे कहा की बीती रात सपने में उन्होंने भगवान श्रीराम को रोते हुए देखा वह बहुत दुखी थे। हालाँकि उन्हें उम्मीद है की इस पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला जल्द ही आएगा और अयोध्या में राममंदिर का निर्माण होगा।

वसीम रिज़वी अयोध्या को राम जन्मभूमि बताते हुये बाबरी मस्जिद के मुस्लिम पैरोकारों को आड़े हाथों लेते हुये कहा की यह मुस्लिमों के तीनों खलीफाओं का कब्रिस्तान नहीं है। यह राम की जन्मभूमि है। और हमें उम्मीद है की इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला जल्द ही आ जायेगा। उन्होंने कहा कि श्रीराम भी अब राममंदिर निर्माण को लेकर उदास हो गए हैं।

बताते चलें कि राज्य सरकार में मंत्री दर्जा प्राप्त वसीम रिज़वी लंबे समय से अयोध्या में राम मंदिर बनने के पक्ष में रहे हैं। इस मामले को लेकर वसीम रिज़वी जून महीने में महंत नृत्यगोपाल दास से मुलाकात कर मंदिर निर्माण के लिए 10 हजार रुपये भी दे चुके है। यहाँ तक की राम मंदिर के निर्माण का विरोध कर रहे मुस्लिमों को लेकर भी वह कई दफा बेतुका बयान दे चुके हैं।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here