‘बिजली-पानी नहीं मिलने से कोलकाता में हाहाकार, ममता का जवाब- ‘मेरा सिर काट लेना’

पश्चिम बंगाल में चक्रवात तूफान ‘अम्फान’ की वजह से राजधानी कोलकाता में बिजली-पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। आपूर्ति बहाल ना होने की वजह से कोलकाता में लोग सड़कों पर उतर कर ममता सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बिजली और अन्य जरूरी सेवाओं को बहाल करने के लिए जनता से कुछ और समय मांगा है।

ममता बनर्जी ने कहा है ‘मुझे मालूम है कि लोग बिजली-पानी ना मिलने की वजह से परेशान हैं तूफान ‘अम्फान’ को आये अभी 2 दिन ही हुए हैं हम पूरी कोशिश कर रहे हैं टीमें रात दिन काम कर रही हैं थोड़ा सब्र रखिए, हम इस आपदा के बीच महामारी से भी लड़ रहे हैं हम जल्द ही सब कुछ बहाल करने की कोशिश कर रहे हैं।’

प्रेस कॉन्फ्रेंस में जनता की नाराजगी को लेकर पूछे गए सवाल में ममता बनर्जी ने कहा कि ‘मैं बस यही कहना चाहूंगी कि तब आप मेरा सिर काट लेना।’ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि तूफान की वजह से राजधानी कोलकाता में अधिकतर जगहों पर पेड़ गिरे हुए हैं। जिससे यातायात पूरी तरह रुक गया है। सड़कों से पेड़ को हटाने के लिए कोलकाता में 200 से ज्यादा टीमें काम कर रही हैं यह भी कहा कि किसी भी आपदा से उबरने में समय लगता है।

बता दे कि चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ के आने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राज्य का दौरा किया था और इस चक्रवात से हुए नुकसान के बाद मोदी ने 1000 करोड़ों रुपये की अंतिम राहत सहायता की घोषणा की थी। वही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कहना है कि चक्रवात की वजह से राज्य में 1 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

Check Also

6 महीने पहले मुस्लिक लड़की से शादी करने वाले युवक की गला रेतकर हत्या

मंगलवार को बोटैनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन के पास एक शौचालय में राधे चौहान नाम के …