मध्य प्रदेश के जबलपुर आर्मी बेस से 100 से ज्यादा AK 47 गायब, सुरक्षा एजेंसियों में हड़कंप

0
120

जबलपुर-मध्य प्रदेश:- जबलपुर के आर्मी बेस से 100 से ज़्यादा AK 47 को नक्सलियों को तस्करी का मामला सामने आने के बाद सुरक्षा एजेंसियों में हड़कंप मच गया है। इस मामले में 2008 में जबलपुर के सुरक्षा संस्थान से रिटायर शस्त्रसाज पुरुषोत्तम लाल और उसकी पत्नी को गिरफ़्तार किया जा चुका है। उनसे पूछताछ जारी है।

न्यूज़ 18 में छपी खबर के अनुसार, मास्टरमाइंड पुरुषोत्तम लाल जबलपुर स्थित सुरक्षा संस्थान में काम करता था। जिन 100 AK 47 हथियारों की तस्करी मुंगेर की जा रही थी दरअसल वो आर्मी के जवानों के लिए थीं। लेकिन ये अवैध तरीके से बिहार के मुंगेर तस्करी करके भेजी जा रही थीं। इससे पहले भी 29 अगस्त को मुंगेर पुलिस ने इमरान नाम के तस्कर को 3 AK 47 और कुछ कल पुर्जे के साथ गिरफ़्तार किया था। इमरान ने पुलिस से पूछताछ में पुरुषोत्तम लाल का नाम लिया था।

पुलिस ने बताया कि आर्मी बेस और फैक्ट्री के कर्मचारियों की मिलीभगत से AK 47 की तस्करी की जा रही थी। इसमें कुछ सिविलियन्स लोग भी शामिल थे। बताया जा रहा है कि आरोपी रिटायर्ड पुरुषोत्तम लाल तस्करी को लेकर 29 बार मुंगेर जा चुका था।

2008 में जबलपुर के सुरक्षा संस्थान से रिटायर होने के बाद 2012 से वो हथियारों की तस्करी में लिप्त हो गया था।

Loading...