सास ने कहा: बहू मरती है तो मर जाए, बेटा तुम खून मत देना, मैं दूसरी शादी करा दूंगी

एक बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है। जिसे जानकर आप भी उस बेरहम पति और सास को कोसने लगोगे। घटना बाराबंकी की है जहां एक सास ने अपनी ही बहु के लिए बेटे से खून देने को बना कर दिया। उस सास ने ‘बहू मरती है तो मर जाए, बेटा तुम अपना खून मत देना’। बहू को प्रसव के समय खून की जरूरत थी। दरअसल, अस्पताल में प्रसव करवाने आई बाराबंकी निवासी गर्भवती एनीमिया से पीड़ित थी।

वहीं, दूसरी ओर चौक निवासी गर्भवती को खून की जरूरत पड़ी तो उसके पति ने ही खून देने से साफ मना कर दिया। पति का कहना था- ‘मरती है तो मर जाए, मैं दूसरी शादी कर लूंगा, लेकिन अपना खून नहीं दूंगा’। परिवारीजनों की ओर से ये जवाब सुन डॉक्टर भी चौंक गए।

डॉक्टरों के अनुसार, जानकारी के अभाव में लोग खून देने से कतराते हैं। उनमें यह मिथ होता है कि खून देने से कमजोरी आएगी, जिससे शरीर काम नहीं करेगा। अस्पताल में औसतन 70 प्रतिशत गर्भवतियां रेफर होकर आती हैं। इनमें हीमोग्लोबिन 5 ग्राम से भी कम होता है। ऐसे में उन्हें खून चढ़ाने की जरूरत होती है। दरअसल, 10 ग्राम से कम हीमोग्लोबिन होने पर प्रसव में खतरा होता है। सिजेरियन नहीं किया जा सकता।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …