मंदिर के पास आज भी चाय-बिस्कुट बेचकर दिन गुजार रही मुख्यमंत्री योगी की बहन

0
7497
photo credit: upuklive

गोरक्षनाथ पीठ जैसे बड़े मंदिर के महंत और पांच बार गोरखपुर से सांसद और अब यूपी के तत्कालीन मुख्यमंत्री होने के बाद योगी आदित्यनाथ उर्फ़ अजय बिष्ट की बहन बिस्कुट और चाय बेचकर गुजारा कर रही है।

आज के समय में कोई अगर विधायक ही बन जाये तो परिवार वाले क्या रिश्तेदार तक मालामाल हो जाते है। यूपीयूके लाइव में छपी खबर के अनुसार, योगी आदित्यनाथ घर बार सब कुछ त्याग कर इमानदारी की मिसाल पेश करते हुए ऐसे नेताओ का मार्गदर्शन करते है जो घोटालो में लीन है। तीनो बहनो में सबसे छोटी बहन शशि अपने बदहाली के दिन काट रही है।

ऋषिकेश से करीब 30 किलोमीटर ऊपर जंगलों में नीलकंठ मंदिर से ऊपर पार्वती मंदिर के पास शशि झोपड़ी जैसी दुकान में फूल माला, पास प्रसाद और चाय-बिस्कुट बेचकर अपना गुजर बसर कर रही है। बहन शशि ने बताया की, “आज से 27 साल पहले जब योगी आदित्यनाथ उत्तराखंड के पंचूर गांव में रहते थे तो पूरा परिवार हर त्यौहार को एक साथ मिलकर मनाता था।“

योगी की बहन शशि एक वाक़िये को याद करते हुए बताती है की जब रक्षाबंधन के त्यौहार के दिन अपने चारों भाइयों को राखी बांधती थीं और गिफ्ट के बदले योगी आदित्यनाथ अपनी बहन से यही कहते थे की जब कमाऊँगा तो ढेर सारे उपहार लाकर दूंगा। उस समय योगी अपने पापा से पैसे लेकर बहनो को दिया करते थे। शशि आगे कहती है की जब पापा चले जाते थे तो वही पैसे योगी वापस मांगा करते थे।

आज 27 साल के बाद योगी की ज़िन्दगी कुछ और है। तब कुछ और थी जब वह अपना घर छोड़कर गोरखपुर आये थे। योगी की बहन शशि कहना है की इतने साल गुजर गए लेकिन योगी से नहीं मिल पायी। आज भी रक्षाबंधन के त्यौहार के दिन अपने भाई के कलाई पर राखी न बांध पाने का दुःख है।

Loading...