कोरोना खौफ के बीच अब नई मुसीबत, इस जिले में सभी मुर्गियों को दफनाने का आदेश

बिहार: पूरे देश में कोरोना वायरस को लेकर लॉक डाउन किया गया है। इसी बीच बिहार के 2 जिलों में बर्ड फ्लू होने की पुष्टि हुई है। कुछ दिनों पहले बिहार की राजधानी पटना, नालंदा, मुंगेर, बांका, भागलपुर सहित प्रदेश के कई जिलों में बत्तख, मुर्गी, कौवे की मौत का मामला सामने आया था। इसके बाद लोगों ने बर्ड फ्लू तथा स्वाइन फ्लू की आशंका जताई थी। वही मुर्गी तथा पक्षियों का सैंपल टेस्ट के लिए भेजा गया था जिसमें बर्ड फ्लू होने की पुष्टि हुई है।

फिलहाल सरकार ने उस जगह के चारों तरफ 1 किलोमीटर के एरिया के सभी मुर्गी, बत्तख हो जमीन में दफनाने का आदेश जारी किया है। मुर्गी में बर्ड फ्लू पॉजिटिव की पुष्टि फाइनल रिपोर्ट केंद्र ने बिहार को गुरुवार को भेज दी थी।

बता दे की बिहार की राजधानी पटना के अशोकनगर और नालंदा के कतरीसराय में मुर्गी में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ हाई सिक्योरिटी एनिमल डिजीज भोपाल की फाइनल रिपोर्ट मिलने के बाद पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग ने दोनों जिलों को निर्देश जारी किया है कि वह दोनों स्थानों के चारों तरफ 1 किलोमीटर के क्षेत्र के सभी मुर्गी फार्म के मुर्गे-मुर्गियों के साथ दूसरी पक्षियों को दफनाने का काम करे।

वही कोरोनावायरस की वजह से पूरे देश में लॉक डाउन की वजह से प्रदेश के कई जिलों की मुर्गी फार्म के मुर्गे-मुर्गियों में बर्ड फ्लू जांच के लिए सिरम सैंपल इकट्ठा कर और आरडीडीएल कोलकाता और एनआईएचएसएडी भोपाल नहीं भेज पा रहे हैं।

वही पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री डॉ प्रेम कुमार ने कोरोना और बर्ड फ्लू मामले पर गुरुवार को एक आपातकालीन बैठक कर अधिकारियों को जरूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। पशु एवं मत्स्य संसाधन मंत्री ने कहा कि जहां पर भी बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है उस इलाके की 1 किलोमीटर दायरे के सभी मुर्गे-मुर्गियों बत्तख पालने वालो को सरकार मुआवजा देकर उन्हें दफनाने का काम करेगी। उन्होंने बताया कि एक व्यस्क मुर्गी और बत्तख के लिए 90 से 130 का मुआवजा दिया जाता है।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …