निजामुद्दीन मरकज: 860 हॉस्पिटल शिफ्ट, 24 लोग कोरोना पॉजिटिव, इस तरह तबलीगी जमात से देश में फैला कोरोना वायरस

नई दिल्ली: कोरोना वायरस को लेकर जहाँ पुरे देश को लॉक डाउन किया गया है। इसी बीच दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से बड़ी खबर सामने आयी है। मिली जानकारी के अनुसार, दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में बड़ी संख्या में लोग कोरोनावायरस के संदिग्ध पाए गए है। उसमें करीब 100 लोग उत्तर प्रदेश में भी शामिल हो चुके है। इस खबर ने पूरे देश में हड़कंप मचा कर रख दिया है।

इस मामले पर ताज़ा जानकारी देते हुए दिल्ली पुलिस ने बताया की, निजामुद्दीन और निजामुद्दीन मरकज बिल्डिंग में मेडिकल टीम और पुलिस मौजूद है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार, “मेडिकल टीम और पुलिस मरकज भवन, निजामुद्दीन में मौजूद हैं जहाँ इस महीने के शुरू में लगभग 2500 लोग एक समारोह में शामिल हुए थे। 860 लोगों को इमारत से अस्पतालों में स्थानांतरित किया गया है, लगभग 300 को स्थानांतरित किया जाना बाकी है।”

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने इस मामले पर ताज़ा जानकारी देते हुए कहा की, वहां तक़रीबन 1500 से 1600 के आस-पास लोग हैं। 1033 लोगों को निकाला जा चुका है। इनमे से 334 लोगों को हॉस्पिटल और 700 के लगभग लोगों को क्वारंटीन सेंटर भेजा गया है। मरकज में ठहरे 24 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं आगे स्क्रीनिंग जारी है।

बता दे की दक्षिण दिल्ली के निजामुद्दीन पश्चिम इलाके में 15 मार्च के बीच तबलीग-ए- जमात के एक इज्तिमे में करीब 2 हजार लोग शामिल हुए थे। जिसमे इंडोनेशिया और मलेशिया के लोग भी शामिल हुए थे। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि बड़ी संख्या में लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण दिखने के बाद इलाके को सील कर दिया गया है।

इनमे से 100 लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। मंगलवार तक रिपोर्ट आने की उम्मीद है। तबलीग-ए-जमात के मुख्यालय और घरों समेत पूरे इलाके को सेनेटाइज किया जा रहा है और मेडिकल टीमें लोगों की जांच कर रही हैं।

Check Also

पुलिस जवानों ने गर्भवती महिला को चारपाई पर उठाकर पहुंचाया अस्पताल, गेट पर महिला ने बच्चे को दिया जन्म

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले के लेमरू वन क्षेत्र में बसे बिलासपुर और सरगुजा संभाग के …