नोएडा: 8 अस्पतालों ने गर्भवती महिला को भर्ती करने से किया इंकार, एंबुलेंस में ही हो गयी मौत

कोरोना संकट के बीच 13 घंटो तक एंबुलेंस से अस्पतालों के चक्कर लगाने के बाद आखिर गर्भवती महिला की मौत हो गयी। यह मामला उत्तर प्रदेश के नोएडा का बताया जा रहा है। जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने इस मामले में जाँच के आदेश दे दिया है।

मीडिया जानकारी के अनुसार, गर्भवती महिला को लेकर उसका परिवार 13 घंटे तक अस्पतालों के चक्कर लगाता रहा लेकिन किसी भी अस्पताल में गर्भवती महिला को प्रसव के लिए जगह नहीं मिल। आखिर में गर्भवती महिला की एंबुलेंस में ही मौत हो गयी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गर्भवती महिला गाजियाबाद के खोड़ा इलाके की रहने वाली थी। वही संडे एक्सप्रेस से बातचीत में मृतक गर्भवती महिला के भाई ने बताया कि अपनी बहन को लेकर 8 अस्पतालों में गए। लेकिन इनमे से अधिकतर अस्पतालों ने बेड खाली नहीं होने की बात कह भर्ती नहीं किया।

वही मृतक गर्भवती महिला के परिजन का आरोप है की शारदा अस्पताल ने भी गर्भवती महिला को अस्पताल में भर्ती करने से मना कर दिया था। अब इस मामले में जिला प्रशासन ने जांच के आदेश दे दिए है। जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने बताया की मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएम सुहास एल वाई ने अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व मुनींद्र नाथ उपाध्याय तथा चीफ चिकित्सा अधिकारी डॉ दीपक ओहरी को मामले की जांच सौंप कार्रवाई करने का निर्देश दिए है।

Check Also

CM योगी आदित्यनाथ ने टीम 11 की बैठक में अफसरों को दिए निर्देश

उत्तर प्रदेश: सीएम योगी आदित्यनाथ ने टीम 11 की बैठक में अफसरों को स्वास्थ्य विभाग …