Online अपडेट होगा NPR, सिर्फ 60 करोड़ लोगों को ही मिलेगी ये सुविधा, जानें कैसे

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर यानी एनपीआर को लागु करने को लेकर देश में काफी विवाद चल रहा है। मीडिया में छपी खबर के अनुसार, मोदी सरकार राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर की प्रक्रिया को ऑनलाइन करने पर विचार कर रही है इस प्रक्रिया के ऑनलाइन होने के बाद लोग खुद अपनी जानकारी अपडेट कर पाएंगे।

सरकार का मानना है कि राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को केलर देश के लोगों में जो डर का माहौल बैठा है उससे निजात मिलेगी। NPR प्रक्रिया के ऑनलाइन और पारदर्शी होने की वजह से काफी हद तक नियंत्रित हो सकता है।

सरकार का कहना है कि यह सुविधा सिर्फ उन लोगों को ही दी जाएगी जिन्होंने साल 2015 के एनपीआर के दौरान अपनी आधार डीटेल्स शेयर की थी। गौरतलब है कि साल 2015 के एनपीआर के दौरान लगभग 60 करोड लोगों ने अपने आधार डिटेल दी थी।

मोदी सरकार ने यह फैसला तब लिया है जब देश में नागरिकता संसोधन कानून और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे है।

Check Also

अनलॉक 2: क्या खुलेगा, क्या रहेगा बंद, यहाँ जाने खुलकर

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने अनलॉक-2 के लिए नई गाइडलाइन्स जारी कर दी है। जिसमे …