तबलीगी जमात को लेकर फर्जी खबरें छापने ने पर, दिव्य भास्कर को कानूनी नोटिस, भुगतने होंगे ये परिणाम

कोरोना संकट के बीच जब निज़ामुद्दीन मरकज का मामला सामने आया तो, देशभर में मीडिया के एक हिस्से ने बड़े पैमाने पर फर्जी और नफरत फैलाने वाली खबरे चलाई। जिसके बाद से अब इन मीडिया हाउस को कानूनी नोटिस भेजे जा रहे है।

एक ताज़ा मामला गुजरात के अहमदाबाद से सामने आया है। यहां वेलफेर सोसायटी के महासचिव मुस्ताक गुलीवाला ने अपने वकील रफीक लोखंडवाला के माध्यम से मुसलमानों के खिलाफ लगातार नफरत फैलाने के आरोपो के चलते अखबार दिव्य भास्कर के खिलाफ़ कानूनी नोटिस भेजा है।

नोटिस में आरोप है कि, अखबार पर मुस्लिमों के खिलाफ भड़काऊ, घृणात्मक और फर्जी खबर प्रकाशित की गई। जिससे मुस्लिमों की छवि को नुकसान पहुंचा। साथ ही बताया गया कि इन खबरों से मुस्लिमों के खिलाफ हालात बिगड़े।

नोटिस में इन खबरों से जुड़े साक्ष्यों की भी मांग की गई। साथ ही बताया गया कि कई मीडिया हाउस ने इन खबरों को झूठा पाया है। नोटिस में अखबार से माफी की मांग की गई है। साथ ही अगर माफीनामा प्रकाशित नहीं हुआ तो परिणाम भुगतने की जिम्मेदारी दी गई।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …