OPD services will continue in AIIMS as before patients will have to be registered online in view of COVID19 situation for the next 4 weeks

0


दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में इलाज करा रहे मरीजों के लिए राहत की खबर है। एम्स के डॉ. अमनदीप ने बुधवार को बताया कि अस्पताल में ओपीडी सेवाएं पहले की तरह ही जारी रहेंगी, लेकिन एम्स प्रशासन के आदेशानुसार अगले 4 सप्ताह तक ओपीडी सेवाओं के लिए ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन को बंद किया गया है ताकि लाइन में लगे लोगों के द्वारा कोरोना ना फैले। इलाज के लिए आने वालों के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सेवाएं जारी रहेंगी।

जानकारी के अनुसार, इससे पहले कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए एम्स में गुरुवार 8 अप्रैल से ओपीडी की सुविधा में कटौती करते हुए रुटीन वॉक इन ओपीडी बंद करने की बात कही गई थी। ओपीडी में सिर्फ ऑनलाइन अपॉइंटमेंट लिया जा सकेगा। एम्स के चिकित्सा अधीक्षक द्वारा जारी आदेश के तहत प्रत्येक विभाग में रोज अधिकतम 50 मरीजों का ही पंजीकरण किया जाएगा। शाम को चलने वाले विशेष सुपर स्पेशलिटी क्लीनिक में भी ऑफलाइन पंजीकरण बंद कर दिया गया है।

बता दें कि, दिल्ली में मंगलवार को इस साल के सर्वाधिक कोरोना के 5100 नए मामले सामने आए थे। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, मंगलवार को इस संक्रमण से 17 और मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 11,113 हो गई। पिछले कुछ हफ्ते में कोरोना वायरस के मामलों में तेज वृद्धि के बीच संक्रमण दर 4.93 प्रतिशत है। इससे पहले पिछले साल 27 नवंबर को राजधानी में 5,482 मामले सामने आए थे।  

दिल्ली में संक्रमितों की संख्या मंगलवार को 6,85,062 हो गई, जबकि 6.56 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं। दिल्ली में सोमवार को कोविड-19 के 3,548 नए मामले सामने आए थे और 15 लोगों की मौत हुई थी। यहां रविवार को 4033 नए मामले सामने आए थे और 21 मरीजों की मौत हो गई थी। शनिवार को 3,567 नये मामले सामने आए थे, जबकि शुक्रवार को 3594 नए मामले सामने आए थे।

ये भी पढ़ें : नाइट कर्फ्यू में सख्ती करेगी दिल्ली पुलिस, ऐसे ले सकेंगे मूवमेंट पास

हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, मंगलवार को इस संक्रमण से 17 और मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 11,113 हो गई। बुलेटिन के मुताबिक, एक्टिव मरीजों की संख्या 17,332 हो गई है, जबकि एक दिन पहले 14,589 मरीज थे। बुलेटिन के मुताबिक, एक दिन पहले आरटी-पीसीआर तरीके से 69,667 जांच और रैपिड एंटीजन तरीके से 33,786 जांच समेत कुल 1,03,453 नमूनों की जांच की गई। होम आइसोलेशन में 8,871 लोग हैं, जबकि सोमवार को 7,983 लोग आइसोलेशन में थे। कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़कर 3291 हो गई है। एक दिन पहले यह 3090 थी। 





Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।