पाकिस्‍तान: करप्शन में कोर्ट ने पूर्व पीएम नवाज शरीफ को सुनाई 7 साल की जेल, ठोका 17.5 करोड़ का जुर्माना

0
100

पाकिस्तान: अल-अजिजिया स्टील मिल्स भ्रष्टाचार मामले में अदालत ने पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को 7 साल जेल की सजा सुनाई साथ ही 17.5 करोड़ रुपए का जुर्माना भी लगाया है। जबकि फ्लैगशिप इन्वेस्टमेंट्स केस में नवाज शरीफ को अदालत ने बरी कर दिया है। इन दोनों मामलो में अदालत ने 24 दिसंबर को अपना फैसला सुनाया है।

‘द डॉन’ ने भ्रष्टाचार-निरोध अदालत के न्यायधीश अरशद मलिक के हवाले से लिखा है की, फ्लैगशिप मामले में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं था। उन्हें अल-अजिजिया स्टील मिल्स भ्रष्टाचार मामले में नेशनल एकाउंटेबिलिटी ऑर्डिनेंस (NAO) की धारा 9 (ए) (5) के तहत सजा सुनाई गई है।

वही स्थानीय खबर के अनुसार, पीएमएल-एन नेता को अदालत के फैसले के बाद तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया। वही से उन्हें जेल भेज दिया जायेगा। अभी यह स्पष्ट नहीं है की नवाज शरीफ को किस जेल में रखा जायेगा। अदीदा जेल या फिर लाहौर की कोट लखपत जेल।

अदालत के फैसले सुनाये जाने के बाद नवाज शरीफ के वकील ख्वाजा हारिस ने न्यायधीश से गुजारिश की कि नवाज शरीफ को लाहौर की कोट लखपत जेल भेजा जाये। जिस पर अदालत ने अपना फैसल सुरक्षित रखते हुए नवाज शरीफ की मेडिकल रिपोर्ट्स माँगी है।

गौरतलब है की पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पहले से ही भ्रष्टाचार के मामलों में सजा काट रहे है। जिसके चलते अदालत ने उन्हें प्रधानमंत्री पद से बर्खास्त कर दिया था।

Loading...