भारत आएंगे पाकिस्तान के पीएम इमरान खान, पीएम मोदी के साथ होगी बड़ी बैठक, जानिए मामला

साल के आखिर तक शंघाई सहयोग संगठन (SCO) समिट होनी है, जिसकी मेजबानी भारत करेगा। जिसके लिए पाक पीएम इमरान खान को भारत आने का न्योता भेजा जाएगा। सदस्य देश के राष्ट्राध्यक्ष होने की वजह से भारत सरकार इमरान खान को भी इस समिट में शामिल होने के लिए न्योता भेजेगी।

भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत बंद होने के बाद यह पहला ऐसा मौका होगा, जब पाक पीएम इमरान खान और भारत के पीएम नरेंद्र मोदी किसी एक कार्यक्रम में साथ दिखाई देंगे। आमतौर पर SCO समिट सरकारों के प्रमुखों की मीटिंग में विदेश मंत्री हिस्सा लेते हैं, लेकिन कुछ देशों के पीएम भी इसमें शामिल होते हैं।

भारत की बात करें तो उसकी तरफ से सरकारों के प्रमुखों की बैठक में विदेश मंत्री हिस्सा लेते हैं, जबकि SCO राष्ट्रप्रमुखों की मीटिंग में प्रधानमंत्री शामिल होते हैं, क्योंकि पाक भी SCO का सदस्य है, ऐसे में यह देखना होगा कि उसकी तरफ से कौन भारत आता है। SCO का गठन औपचारिक तौर पर 2001 में हुआ। इसकी स्थापना चीन, रूस, कजाकस्तान, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान ने मिलकर की। इस संगठन का मकसद आतंकवाद को रोकना और आर्थिक व सांस्कृतिक सहयोग को बढ़ावा देना था। भारत और पाकिस्तान को इस संगठन में देरी से प्रवेश मिला था।

2017 में भारत और पाकिस्तान को एक साथ इस संगठन के सदस्यों में शामिल किया। हालांकि, इससे पहले 2005 से ही भारत SCO में ऑब्जर्वर के तौर पर शामिल होता रहा है। जून 2019 में बिश्केक में हुए SCO समिट में पीएम मोदी शामिल हुए थे और उन्होंने यहां आतंकवाद के मामले पर एकजुट होने की अपील की थी।

पीएम मोदी ने अपने भाषण में सदस्यों देशों से आह्वान किया था कि आतंकवाद के मुद्दे पर इंटरनेशनल कांफ्रेंस बुलानी होगी और आतंकवाद का सफाया करने के लिए सबको एक साथ आने की जरूरत है। इस साल SCO समिट के लिए भारत को मौका मिला है। हाल ही में SCO के महासचिव व्लादिमीर नोरोव भारत दौरे पर थे, जिन्होंने समिट की तैयारियों का जायजा लिया।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …