चमगाड़दों की अचानक हो रही मौतों से लोगो में मची दहशत, अधिकारियों का दावा हीट स्ट्रोक है कारण

0

गोरखपुर: यूपी के गोरखपुर के खजनी रेंज के अंतर्गत आने वाले गांव बेलघाट तथा बलिया में 500 से अधिक चमगादड़ मरे मिलने से हड़कंप मच गया। गांव के लोगों ने बताया कि कुछ चमगादड़ जमीन पर मरे पड़े थे। तो कुछ पेड़ से अपने आप लोगों के सामने गिर रहे थे। पुलिस और प्रशासन को इसकी सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस और वन विभाग की टीम घटना की जांच कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार यह सभी चमगादड़ ध्रुव नारायण साही के आम के बाग में मरे पड़े मिले हैं। इसके अलावा कौड़ीराम से सटे गोला इलाके के गोपलापुर में भी 250 चमगादड़ों की मौत की खबर सामने आई है। वही लगातार चमगादड़ों के मरने पर वन विभाग की टीम हरकत में आई। उप मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ ओपी श्रीवास्तव का कहना है कि इस समय पड़ रही भीषण गर्मी और पानी की कमी से चमगादड़ की मौत हो रही है।

चमगादड़ों की इस तरह मौत के बाद गांव के लोगों में दहशत का माहौल है लोग अपने घरों में बंद हो गए हैं लोगों का कहना है कि उन्हें डर है कि कहीं किसी अन्य वायरस की वजह से तो चमगादड़ों की मौत नहीं हो रही। कुछ लोगों का कहना है कि किसी अनजान वायरस की वजह से चमगादड़ों की मौत हो रही है।

खजनी रेंजर देवेंद्र कुमार का कहना है कि चमगादड़ों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे जा रहे हैं लेकिन अभी चमगादड़ किस वजह से मर रहे हैं कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। पहले देखने में ही लगता है कि भीषण गर्मी और पानी की कमी की वजह से चमगादड़ की मौत हुई है। क्योंकि आसपास तालाब और पानी के सारे स्रोत सूख चुके हैं। हो सकता है कि चमगादड़ों को पानी ना मिला हो इसलिए उनकी मौत हो गई होगी। जांच के बाद ही कुछ कहना सही रहेगा।