पीयूष गोयल शुक्रवार को पेश करेंगे अंतरिम बजट, किसानो की किस्मत पर हो सकता है फैसला

0
588

नई दिल्ली: अटकले हुई ख़त्म वित्त मंत्री पीयूष गोयल पेश करेंगे अंतरिम बजट। अभी बीते दिनों खबर आई थी की अरुण जेटली की तबियत में सुधार हो रहा है और वो अमेरिका से जल्द भारत लौट सकते है और अंतरिम बजट पेश करेंगे। लेकिन पिछले सप्ताह यह जिम्मेदारी वित्त मंत्री पीयूष गोयल को सौपी गयी है जो शुक्रवार को अंतरिम बजट पेश करेंगे।

न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के जरिये बताया है की इस अंतरिम बजट में पुरे वित्त वर्ष के लिए सशक्त आवक-जावक का अनुमान पेश किया जाएगा, लेकिन शुरू के कुछ महीनों के खर्चे के लिए ही परमिशन मांगी जाएगी, जिस तरह अंतरिम बजट में होता है। केंद्र सरकार इस अंतरिम बजट में आर्थिक सर्वेक्षण पेश नहीं करने वाली है। क्यूंकि लोकसभा चुनाव के बाद जिसकी भी सरकार बनेगी। वह सरकार जुलाई में आर्थिक सर्वेक्षण और पूर्ण बजट पेश करेगी।

लेकिन इस बार कुछ ऐसी चर्चा चली थी की मोदी सरकार इस साल 70 साल पुरानी चली आ रही परंपरा को अनदेखा कर पूर्ण बजट पेश कर सकती है। क्यूंकि ये शक तब पैदा हो गया जब बुधवार को वित्त मंत्रालय का एक वॉट्सऐप मैसेज सामने आया। जिसमे लिखा था की 2019-20 के बजट को अंतरिम नहीं बल्कि आम बजट समझा जाए। हालाँकि बाद में मंत्रालय ने खुद इस मैसेज का खंडन करते हुए कहा की यह कोई पूर्ण बजट नहीं बल्कि अंतरिम ही होगा।

बतादे की भारत में एक अवॉर्ड फंक्शन को जेटली ने अमेरिका से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करते हुए कहा था की ‘सरकार अंतरिम बजट से आगे जा सकती है।’ जिसके बाद से पूर्ण बजट की चर्चाये होने लगी थी। वही इस बजट को लेकर यह भी अनुमान लगाया जा रहा है की मोदी सरकार आयकर छूट की सीमा को बढ़ा सकती है जो परंपरा के विपरीत होगा। साथ ही इस बजट में केंद्र सरकार किसानों के लिए राहत पैकेज का ऐलान भी कर सकती है।

Loading...