पिता की हो चुकी है मौत, मां रहती है बीमार…. गरीबी ने घेरा तो पढ़ाई छोड़ फल बेचने लगा कन्हैया

नोएडा के सेक्टर 31 में रहने वाले 13 साल के कन्हैया ने अब अपने घर चलाने की जिम्मेदारी खुद उठा ली है। पिता की मौत के बाद मां की तबीयत खराब रहने लगी है लॉकडाउन ने भाई का रोजगार छीन लिया है जिससे अब कन्हैया घर चलाने के लिए ठेले पर सुबह 8 बजे से फल बेचता है।

कन्हैया एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ रहा था लेकिन हार्ट अटैक से रिक्शा चालक पिता की मौत हो जाने से अब घर की सारी जिम्मेदारी उसके कंधों पर आ गई है। बड़ा भाई भी ऑटो चलाता था लेकिन लॉकडाउन के बाद से वह बेरोजगार हो गया है।

मीडिया खबरों के अनुसार कन्हैया का परिवार नोएडा के सेक्टर 31 के निठारी गांव में एक कमरे के मकान में रहता है। कन्हैया ने बताया कि पड़ोसी से 1 हजार उधार लेकर उसने ठेला खरीदा। अब सेक्टर में घूम-घूम कर फल बेचा करता है।

कन्हैया लॉकडाउन में अपने छोटे से मोबाइल के फोन स्क्रीन पर ऑनलाइन पढ़ाई करता था। लेकिन घर चलने में मुश्किल होने के बाद उसने ठेले पर फल बेचने का फैसला किया। कन्हैया ने बताया की, उसके दोस्त कह रहे पढ़ाई का काफी नुकसान हो रहा है कन्हैया का कहना है कि उसके पास और कोई रास्ता नहीं बचा है।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …