दिल्ली निजामु्द्दीन मरकज की घटना पर राष्ट्रपति बयान, कहा इस जमात से पुरे देश में…

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए देश में लागु लॉकडाउन का अब भी उतने प्रभावी ढ़ंग से पालन नहीं हो पा रहा है। क्युकी आनंद विहार और निजामुद्दीन वाली घटना ने पूरे देश को हिला कर रख दिया। अब इस घटना पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का बयान सामने आया है, राष्ट्रपति ने इस पूरे मामले की निंदा की है। साथ ही उन्होंने कहा कि यह घटना हमारे लॉकडाउन के प्रयासों पर पानी फेरता है।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने सभी राज्यपाल और उपराज्यपालों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद किया। जिसमे उन्होंने कहा कि, सभी को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि देशव्यापी लॉकडाउन में कोई भूखा न रहे।

संवाद के दौरान इस बात पर एक राय बनी कि इस महामारी से लड़ाई में किसी प्रकार की लापरवाही या आत्मसंतुष्टि का कोई स्थान न रहे। इस संदर्भ में कोविंद ने देश के कुछ हिस्सों में डाक्टरों, स्वास्थ्य कर्मियों और पुलिस कर्मियों पर हमलों की घटनाओं पर चिंता भी व्यक्त की।

आगे राष्ट्रपति ने कहा, कोरोना वायरस से लड़ाई में देश के लोगों का काफी समर्थन मिल रहा है। उनके अपूर्व साहस, अनुशासन और एकजुटता का प्रदर्शन अद्भुत है। हालांकि उन्होंने आनंद विहार और निजामुद्दीन के घटना की भी निंदा की। उन्होंने प्रवासी मजदूरों के एकत्र होने और निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात के लोगों के शामिल होने की दो घटनाओं पर चिंता व्यक्त की जिससे कोरोना के खिलाफ प्रयासों को धक्का पहुंचा है।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …