नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ देशभर में प्रदर्शन, पीएम मोदी ने दिया बड़ा बयान

नागरिकता संशोधन बिल ने इस समय देश भर में हिंसा का रुख ले रखा है। पूर्वोत्तर में भी इस बिल के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। इस बिल लो लेकर असम में विरोध सबसे अधिक है। प्रदर्शनकारियों ने गुवाहाटी में सरेआम बस फूंक दी और तिनसुकिया और डिब्रूगढ़ रेलवे स्टेशन जलाई। इस हिंसक को लेकर पीएम मोदी ने असम के लोगों से शांति बनाये रखने को कहा, उन्होंने ने कहा कि इस बिल से असम का कोई अधिकार नहीं छिना जाएगा। पीएम मोदी ने ट्विट किया कि , ‘मैं असम के अपने भाइयों और बहनों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि नागरिकता संशोधन बिल के पास होने के बाद उन्हें चिंता करने की जरूरत नहीं है. मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं- कोई भी आपके अधिकारों, विशिष्ट पहचान और सुंदर संस्कृति को नहीं छीन सकता है. यह फलता-फूलता और विकसित होता रहेगा। कहा कि , ‘मैं और केंद्र सरकार अनुसूचि 6 की भावना के अनुसार असमिया लोगों के राजनीतिक, भाषाई, सांस्कृतिक और भूमि अधिकारों को संवैधानिक रूप से संरक्षित करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं.’

पीएम नरेंद्र मोदी ने असम के लोगों से अपील करते हुए कहा, ‘मैं और केंद्र सरकार अनुसूचि 6 की भावना के अनुसार असमिया लोगों के राजनीतिक, भाषाई, सांस्कृतिक और भूमि अधिकारों को संवैधानिक रूप से संरक्षित करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं.’

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …