राहुल गांधी ने कहा, हमारे पास कोरोना से बचने के लिए समय था, लेकिन केंद्र सरकार ने इसे गंभीरता से नहीं लिया

कोरोना वायरस लोग को अपनी चपेट में काफी तेज़ी से ले रहा है, जिसको लेकर सरकार की ओर से जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना से जंग में मोदी सरकार पर लेट लतीफी करने का आरोप लगा दिया है। उन्होंने कहा है, हमारे पास तैयारी का वक्त था,. लेकिन हमने समय पर गंभीरता से तैयारी नहीं की.

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने अपने एक ट्विटर पर लिखा, ‘मैं दुखी महसूस कर रहा हूं, क्योंकि इसे पूरी तरह से टाला जा सकता था. हमारे पास तैयारी का समय था, हमें इस खतरे को अधिक गंभीरता से लेना चाहिए था और बहुत बेहतर तरीके से तैयारी की जानी चाहिए थी.’

इससे पहले भी राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा था कि, ‘विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सभी देशों से वेंटिलेटर और सर्जिकल मास्क का पर्याप्त स्टॉक रखने को कहा था. WHO की सलाह के बावजूद इन चीजों को 19 मार्च तक निर्यात की इजाजत क्यों दी गई. यह किसकी शह पर हुआ और क्या यह आपराधिक साजिश नहीं है.’

भारत में कोरोना के अब तक 523 केस सामने आ चुके हैं, जिसमें 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि 44 ठीक हो चुके हैं। कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित महाराष्ट्र और केरल है. महाराष्ट्र में 101 और केरल में 95 केस सामने आए हैं. केरल की वानयाड सीट से खुद राहुल गांधी सांसद हैं और महाराष्ट्र में उनकी शिवसेना-एनसीपी गठबंधन के साथ सरकार है।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …