रजनीकांत, कमल हासन की फेवरेट हीरोइन सड़क पर मिली बुरी हालत में, बदन पर रेंग रहे थे कीड़े और चींटियां

0
776
Loading...

80-90 के दशक में साउथ की फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाने वाली मशहूर एक्ट्रेस निशा नूर आज इस दुनिया में नहीं है। लेकिन इस एक्ट्रेस की ज़िन्दगी के बारे में सच्चाई जानकर आपके रोंगटे खड़े हो जायेंगे। साल 2007 में एक गैर सरकारी संस्था ने एक्ट्रेस निशा नूर को एक दरगाह के बाहर पाया था। उस समय निशा नूर के बदन पर कीड़े और चींटियां रेंग रही थीं।

ये वही निशा नूर है जो साउथ फिल्म इंडस्ट्री के बड़े-बड़े कलाकार, निर्माता, निर्देशक को अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा चुकी है। यही कारण रहा की रजनीकात और कमल हासन जैसे बड़े स्टार निशा नूर के साथ काम करना चाहते थे। निशा नूर ने कई हिट फिल्मे दी जिसमे 1981 की फिल्म ‘टिक! टिक! टिक!’, 1990 में फिल्म ‘अय्यर द ग्रेट’, 1986 की फिल्म ‘कल्याणा अगातिगल’ में निशा नूर ने अपनी जबरदस्त एक्टिंग से टिकट खिड़की पर जनता की लाइन खड़ी करवा दी थी।

लेकिन कुछ सालो बाद निशा नूर को काम मिलना बंद हो गया। पैसो की दिक्कत के चलते निशा अचानक कही गायब हो गई। उनके गायब होने की चर्चा कुछ दिन तक चली लेकिन अपनी व्यस्त ज़िन्दगी के चलते लोग भूल गए।

साल 2007 में एक गैर सरकारी संस्था Muslim Munnetra Kazhagam के सदस्यों को एक दरगाह के बाहर बेहद बुरी पोजीशन में निशा नूर को पाया था ,किसी तरह संस्था के सदस्यों ने चेन्नई के एक हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया था। सदस्यों ने बताया था की निशा नूर की साँसे चल रही थी लेकिन शरीर पर कीड़े और चींटियां रेंग रही थीं। शरीर हड्डी के ढाचो में तब्दील हो चूका था। अस्पताल में भर्ती के कुछ ही दिन बाद निशा नूर की मौत हो गई थी। डॉक्टरों ने बताया था की निशा नूर को एड्स हो गया था। जानकारी के अनुसार एक निर्माता ने निशा को पैसों का लालच देकर देह व्यापार के धंधे में लगा दिया था। निशा नूर ने वहाँ अपने ज़िन्दगी के सबसे बुरे दिन देखे।

Loading...