अयोध्या में 2019 से पहले राम मंदिर निर्माण कार्य शुरू होना चाहिए- शिवसेना

0
93
Loading...

नई दिल्ली: अयोध्या में राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी महंथ सत्येंद्र दास महाराज ने राम मंदिर के निर्माण में हो रही देरी पर भाजपा द्वारा किये गए वादे से पलटने करने का आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी राम मंदिर के नाम पर जीतकर सत्ता में आई लेकिन राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर अब बीजेपी के नेता मामले को कोर्ट में बताकर किसी तरह की कार्रवाई से बच रहे हैं।

वैसे आपको बतादे की 2019 लोकसभा चुनाव से पहले राम मंदिर निर्माण मुद्दा तूल पड़कर सकता है वही शिव सेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने भाजपा पर राम मंदिर निर्माण को लेकर निशाना साधा।वही अयोध्या में रामलला के दर्शन करने पहुंचे शिव सेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने न्यूज़ एजेंसी ANI से बातचीत में कहा कि 2019 से पहले, राम मंदिर मामले को सुलझाया जाना चाहिए और निर्माण कार्य शुरू होना चाहिए।

कहा की आज बीजेपी केंद्र और राज्य में शासन कर रही है। जब मोदी सरकार तीन तलाक और SC/ST एक्ट पर अध्यादेश ला सकती है तो राम मंदिर पर अध्यादेश क्यों नहीं लाती। राउत ने यहाँ तक कहा की अगर भाजपा अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण नहीं करवा सकती तो उसे भगवान राम के नाम पर वोट मांगने का कोई अधिकार नहीं है।

एक प्रेस वार्ता के दौरान संजय राउत ने कहा कि जब शिव सेना के संस्थापक बाला साहब ठाकरे जिन्दा थे तो उन्होंने विवादित ढांचे को गिराने में अहम भूमिका निभाई थी और ढांचा गिराकर भगवान राम को आज़ाद किया था। आपको बताते चले की शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे दीपावली के बाद अयोध्या पहुंचेंगे। खबर के अनुसार शिव सेना प्रमुख मुंबई की दशहरा रैली के दौरान अयोध्या यात्रा का एलान कर सकते हैं।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

Loading...