retired banker filed a case against rakhi sawant her brother rakesh says it is a publicity stunt

0


राखी सावंत एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। एक रिटायर्ड बैंक एम्प्लॉयी ने राखी, उनके भाई राकेश और राज खत्री नाम के एक शख्स के खिलाफ दिल्ली में शिकायत दर्ज करवाई है। इन तीनों पर 6 लाख रुपये के फ्रॉड का आरोप है। इस मामले में राखी के भाई राकेश सावंत का रिऐक्शन आया है। उनका कहना है कि इस केस में मेरा कोई लेना-देना नहीं। मेरी लीगल टीम मानहानि का मुकदमा करेगी।

 

राखी के भाई राकेश ने दी ये सफाई

रिटायर्ड बैंक कर्मचारी शैलेष श्रीवास्तव ने दिल्ली के विकासपुरी पुलिस स्टेशन एफआईआर दर्ज करवाई है। इस पर राखी के भाई राकेश का कहना है, मैंने 2017 में इंस्टिट्यूट के रेनोवेशन के लिए 3 लाख रुपये इन्वेस्ट किए थे। लेकिन इंस्टिट्यूट खुलने से पहले, मुझे मां के ऑपरेशन के लिए मुंबई लौटना पड़ा। मैं यहां एक महीने रुका और जब दिल्ली वापस पहुंचा तो पता चला कि यह जगह किसी सरदारजी को किराए पर दे दी गई है। जब मैं मां के ऑपरेशन के लिए जल्दबाजी में मुंबई आया था तो चेकबुक वगैरह दिल्ली में छोड़ गया, जो कि गायब हो गए। मैंने मिसिंग चेक बुक्स और कई सामान के लिए शिकायत भी दर्ज करवाई थी। मैंने बैंक को सभी विड्रॉल रोकने के लिए भी कहा था।

 

 

भाई ने कहा, राखी का नहीं लेना-देना

उन्होंने यह भी बताया, राखी का इन सबसे कोई लेना-देना नहीं है। उन्हें इस डील के बारे में पता भी नहीं है। मैंने शैलेष को कई बार फोन किया लेकिन उन्होंने मेरा फोन नहीं उठाया। राखी ‘बिग बॉस’ से बाहर आ गई है तो ये लोग पब्लिसिटी के लिए मेरे पुराने चेक दिखाकर दावा कर रहे हैं कि मैंने फ्रॉड किया है। नवभारतटाइम्स की पुरानी रिपोर्ट के मुताबिक, राकेश शैलेष से बिजनस शुरू करने के सिलसिले में मिले थे। उन्होंने राखी के भाई को 6 लाख रुपये दिए थे। यह मुलाकात राज ने करवाई थी। 

 

बाबा राम रहीम पर बनाना चाहते थे फिल्म

दोनों बाबा राम रहीम पर फिल्म प्रोड्यूस करना चाहते थे। फिल्म के अलावा दोनों डांस इंस्टिट्यूट भी खोलना चाहते थे। रिपोर्ट के मुताबिक, राकेश ने बताया था कि इसमें राखी भी शामिल होंगी। बात नहीं बन पाई और आरोप है कि राखी के भाई ने गलत दस्तखत के साथ पोस्ट डेटेड चेक दिया था जो कि बाउन्स हो गया। शैलेष ने कॉन्टैक्ट करने की कोशिश की पर बात नहीं हो पाई तो एफआईआर दर्ज करवा दी।



Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।