CAA को लेकर राजद का आज बिहार बंद, पटना और हाजीपुर में आगजनी की खबर

बिहार: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बिहार में राजद ने आज प्रदेश में बंद बुलाया है। प्रदेश में बंद को लेकर बिहार की राजधानी पटना और हाजीपुर में आगजनी की घटना सामने आई है। जिससे वहां यातायात ठप हो गया।

वहीं राजद कार्यकर्ताओं ने वैशाली के भगवानपुर में मवेशियों के साथ हाईवे NH 77 को जाम कर दिया। जिस पर पोस्टर में लिखा था ‘मैं विदेशी नहीं हूं और एनआरसी बिल और सीएए का विरोध करता हूं’ वहीं नागरिकता संशोधन कानून को लेकर उत्तर प्रदेश में हुई कल हिंसा के चलते मरने वाले की संख्या बढ़कर 14 हो गई है।

राजद के बिहार बंद को महागठबंधन की दूसरी पार्टियों ने भी अपना समर्थन दिया है। बंद का असर राजधानी से लेकर पूरे बिहार की सड़कों पर देखने को मिला। बंद की वजह से बिहार की सड़कों पर बसें नहीं चलने से लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। यहां तक कि पटना में ऑटो सिटी बसें भी बंद है।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में तेजस्वी यादव बिहार बंद के समर्थन में अपने हजारों समर्थकों के साथ सड़क पर उतरे। वही उत्तर बिहार को पटना राजधानी से जोड़ने वाली गांधी सेतु को भी समर्थकों ने जाम कर दिया। भागलपुर में कई ऑटो के शीशे तोड़ने और ऑटो ड्राइवर और रिक्शा चालकों के साथ मारपीट की भी खबर है।

नागरिकता संशोधन कानून पर महाराष्ट्र में मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने पुणे में कहा कि, ‘‘वित्तीय संकट से ध्यान भटकाने के लिए सीएए लाया गया और इसमें अमित शाह को सफलता मिली। देश में और नागरिकों की जरूरत क्यों हैं, जनसंख्या की वजह से पहले ही बहुत परेशानी हैं। फिर बाहर के लोग क्यों लाएं। फिर चाहे वे किसी भी धर्म का हों। पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आने वाले मुसलमानों को देश से बाहर निकालना चाहिए। भारत कोई धर्मशाला नहीं है। मानवता का ठेका सिर्फ भारत ने नहीं ले रखा।’’

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पूरे देश में हो रहे प्रदर्शन पर फिल्म निर्माता मुकेश भट्ट ने अपनी राय रखी और कहा ‘‘पूरा देश आग की लपटों में है। उसके बाद भी अगर कोई नहीं देख सकता है, तो यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है। अगर युवा सड़कों पर हैं, तो हमें इस पर विचार करना चाहिए कि क्या गलत हुआ।’’

वहीं कर्नाटक में कांग्रेसी नेता यूटी खादर ने 17 दिसंबर को कहा था कि ‘‘देश जल रहा है, लेकिन कर्नाटक शांति का द्वीप है। मैं कर्नाटक की सरकार को चेतावनी देता हूं कि नागरिकता कानून को लागू किया गया तो कसम खाकर कहता हूं कि प्रदेश राख में बदल जाएगा।’’

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …