भारत में सबसे कम उम्र वाले आईपीएस बने साफिन हसन, माँ धोती थी शादियों में बर्तन

चलिए आपको मिलते है, गुजरात के राजकोट में रहने वाले साफिन हसन से जो कि आगामी 23 दिसंबर को इतिहास रचने वाले हैं। वह भारत के सबसे युवा आईपीएस अधिकारी बनेंगे। 22 वर्षीय हसन राजकोट में हीरा तराशने वाले एक दंपती मुस्तफा व नसीम के बेटे हैं। और अब वह 23 दिसंबर को जामनगर के जिला पुलिस उपाधीक्षक का पदभार ग्रहण करने वाले है। साफिन हसन के माता-पिता हीरा तराशने का व्यापार करते हैं, और साथ ही इन माता पिता ने बेटे की पढ़ाई के चलते ज्यादा की ज़रूरत में रेस्तरां और शादी समारोह में रोटी बेलने का काम भी किया है। लेकिन बेटे के लिए दिन रात काम करने वाली मां की मेहनत रंग ले आई जिससे बेटा सफिन हसन अब आईपीएस बन चूका है।

जानिए बताते हैं साफिन हसन की पूरी कहानी
पहले हसन ने उत्तर गुजरात में बनासकांठा के पालनपुर तहसील के छोटे से गांव कणोदर में प्राथमिक शिक्षा की जिसके बाद वह इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए सूरत चले गए। और फिर गुजरात पब्लिक सर्विस कमीशन की परीक्षा पास करने के बाद जिला रजिस्ट्रार बनने की उपलब्धि हासिल करली। लेकिन हसन के मन में आईपीएस बनने का सपना था। और थोड़ी मेहनत करने के बाद इसके बाद हसन ने 570वीं रैंक के साथ पिछले वर्ष आईपीएस की परीक्षा पास की।

अपने एक इंटरव्यू में हसन ने कहा, ‘मैं गुजरात पब्लिक सर्विस कमिशन की परीक्षा पास कर जिला रजिस्ट्रार तो बन गया, लेकिन मन में अभी भी आईएएस या आईपीएस बनने की इच्छा थी। इसके बाद पिछले साल 570वीं रैंक के साथ यह परीक्षा पास की।’ फिर वह गुजरात कैडर से आईपीएस की ट्रेनिंग के लिए हैदराबाद चले गए। बता दें कि सोशल मीडिया पर हसन के 80 हजार फॉलोअर्स हैं।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …