CAA पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का ना, केंद्र सरकार की सुंनने के बाद SC करेगी फैसला

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ डाली गई 140 से अधिक याचिकाओं पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने सभी दलीलें सुनने के बाद नागरिकता संशोधन कानून पर रोक लगाने से इंकार कर दिया।

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ दायर याचिकाओं पर 4 सप्ताह में अपना जवाब दाखिल करने को कहा है। साथ ही यह भी कहा कि सिर्फ पांच जजों की संविधान पीठ ही राहत दे सकती है सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने CAA के खिलाफ दाखिल याचिका पर हाईकोर्ट की सुनवाई पर भी रोक लगा दी।

वही इस सुनवाई में असम और त्रिपुरा के मामले को अलग रखने का निर्देश दिया है। सुनवाई के दौरान बुधवार को कोर्ट नंबर 1 पूरी तरह भरा रहा। बतादें इस मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस एसए बोबड़े की अध्यक्षता वाली तीन जजों की पीठ कर रही थी।

ज्यादा लोगों के आने के बाद सुनवाई के दौरान कोर्ट को तीनों दरवाजे खोलने पड़ गए। वही अटार्नी जनरल ने कोर्ट से कहा कि भीड़ की वजह से वकील अंदर नहीं आ पा रहे हैं। आज 144 याचिकाओ पर सुनवाई होनी है। जिस पर चीफ जस्टिस ने कहा कि कोर्ट में सभी को आने की क्या जरूरत है लेकिन सभी पक्षों के साथ बैठक करेंगे। साथ ही यह भी कहा कि लोग अपना सुझाव दे सकते हैं।

अटॉर्नी जनरल ने कोर्ट को बताया की नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ केंद्र को 60 याचिकाएं मिली हैं। सुनवाई के दौरान कोर्ट में कपिल सिब्बल भी मौजूद थे।

Check Also

अनलॉक 2: क्या खुलेगा, क्या रहेगा बंद, यहाँ जाने खुलकर

नई दिल्ली: मोदी सरकार ने अनलॉक-2 के लिए नई गाइडलाइन्स जारी कर दी है। जिसमे …