जाति देखकर गांव वालो ने रोका शहीद जवान का अंतिम संस्कार, प्रशासन ने दी दखल

0
19699
Loading...

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद वीर सिंह के अंतिम संस्कार को लेकर जवान के पैतृक गांव में ऊँचे जाति के लोगो के रोके जाने का मामला सामने आया है। जिसके बाद प्रशासन ने गांव वालो को मनाया।

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के अनुसार, यूपी के शिकोहाबाद स्थित पैतृक गांव में सार्वजनिक श्मशान में शहीद जवान वीर सिंह के अंतिम संस्कार को करने से ऊंची जाति के लोगों ने मना कर दिया। गांव के ऊंची जाति के लोगों का कहना था की शहीद वीर सिंह नट जाति से आता है। इसीलिए यहाँ अंतिम संस्कार नहीं हो सकता।

जिसके बाद मामले की सुचना पाकर पहुंचे जिला पदाधिकारी ने गांव के लोगो को समझाया। जिसके बाद ऊंची जाति के लोगों ने 10 गुना 10 मीटर की जमीन शहीद जवान वीर सिंह के अंतिम संस्कार के लिए दी।

गौरतलब है की गुरुवार 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था जिसमे सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। इस हमले को जैश ए मोहम्मद के आतंकियों ने अंजाम दिया था। जिसको सेना ने 18 फ़रवरी 2019 को मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद के मास्‍टरमाइंड अब्‍दुल रशीद गाजी को मार गिराया है।

Loading...