शहीद मेजर विभूति की छोटी लव स्टोरी ने दुनिया को रोने पर किया मजबूर, पढ़कर नम हो जाएंगी आपकी आंखें- VIDEO

0
27092
Loading...

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए मेजर विभूति ढौंडियाल की शादी 18 अप्रैल 2018 को निकिता से हो गया था। शहीद मेजर विभूति 19 अप्रैल को निकिता को लेकर पहली बार अपने घर डंगवाल मार्ग गए थे। शहीद मेजर विभूति की इस छोटी सी लव स्टोरी से देश ही नहीं पूरी दुनिया के आँख में आँसू आ गए। वही अंतरराष्ट्रीय मानवअधिकार कार्यकर्ता इंसाफ हैदर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल के प्रति अपनी गहरी संवेदनाएं जाहिर की।

इंसाफ हैदर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शहीद मेजर विभूति ढौंडियाल की शादी की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, प्रिय निकिता कॉली, मैं एक कनाडियन पत्नी हूँ जिसने अपने पति को खो दिया है। और अब उनका हर दिन उनका इंतेज़ार करती हूँ। मैं तुम्हारा दुख समझ सकती हूँ। निकिता से इंसाफ हैदर आगे कहती है की पति शहीद मेजर ढौंडियाल केवल तुम्हारे और भारत के ही नहीं बल्कि पुरे दुनिया के हीरो रहेंगे।

19 अप्रैल 2018 के लेकर 19 फरवरी 2019 तक, केवल दस महीने बाद निकिता की वीरान आंखें अब मेजर की तस्वीर पर लगे फूलों पर ठहर गई है। किस्मत की मार से न जाने कितने रंग उसके चेहरे पर आ-जा रहे थे। वह गुलाबी-सा रंग हो सकता है की वो उस दिन के दौर पर खड़ी थी, जब शहीद मेजर विभूति उसे शादी कर इस घर की चौखट पर लाए थे।

बस वह दस महीने खुशियों से फूले नहीं समां रही थी। मूक से ये लफ्ज उसके होठों में ही जकड़े रह गए थे। जैसे किसी ने उसे गहरी नींद से झकझोर कर जगा दिया हो। अब, वह समय की निर्दय, बेहद खुरदुरी-कठोर जमीन पर थी। बस दस महीने। सब कुछ बदल गया। आज पूरा जहाँ उसके साथ था मगर उसके हाथों में मेजर का हाथ नहीं था।

Loading...