Shakib Al Hasan refuses to play Test due to IPL Bangladesh Cricket Board President lashed out fiercely

0


बांग्लादेश के आलराउंडर शाकिब अल हसन का इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में लंबे समय तक बने रहने के आग्रह को बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने निराशाजनक करार दिया और उसने भविष्य में ऐसी स्थिति से बचने के लिए खिलाड़ियों के सेन्ट्रल काॅन्ट्रैक्ट में नया नियम जोड़ने का फैसला किया। शाकिब अप्रैल में श्रीलंका के खिलाफ नेशनल टीम की तरफ से टेस्ट मैच खेलने के बजाए भारत में आईपीएल में खेलना चाहते हैं लेकिन यह बीसीबी के अध्यक्ष नजमुल हसन को नागवार गुजरा। 

श्रीलंकाई सलामी बल्लेबाज उपुल थरंगा ने इंटरनैशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

ईएसपीएन क्रिकइन्फो से बात करते हुए नजमुल हसन ने कहा, ‘जब कोई यह कहता है कि हम टेस्ट मैच नहीं खेल सकते उसकी जगह फ्रेंचाइजी लीग खेलना चाहते हैं। तो यह बहुत स्पष्ट हो जाता है कि हम उसके साथ बहुत कुछ नहीं कर सकते। हमने शाकिब को आईपीएल खेलना से रोका नहीं, लेकिन हम ऐसा चाहते नहीं थे।’ उन्होंने कहा, ‘हम सिर्फ उन खिलाड़ियों को चाहते हैं जो खेल से प्यार करते हैं। शाकिब को तीन साल पहले हमने उन्हें टेस्ट टीम का कप्तान बनाया था। वह ऐसे खिलाड़ियों में से हैं जिनसे मुश्किल परिस्थितियों में सबसे ज्यादा उम्मीदें रहती हैं। लेकिन उन्होंने निराश किया।’ 

डूल का आरोप- IPL ऑक्शन में कीवी क्रिकेटरों के साथ होता है पक्षपात

उन्होंने कहा, ‘हमें अफगानिस्तान, इंडिया, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। वेस्टइंडीज के खिलाफ घर पर हारने के बाद हम उम्मीद कर रहे थे कि हर कोई अगली सीरीज के लिए उतावला होगा। लेकिन जब कोई यह कहता है कि मैं टेस्ट की बजाए फ्रेंचाइजी क्रिकेट खेलना चाहता हूं ऐसे में हम उनके लिए बहुत कुछ नहीं कर सकते।’ बीसीबी अध्यक्ष ने कहा, ‘हम बहुत जल्द एक ऐसा कांट्रैक्ट लाएंगे जिसमें यह स्पष्ट होगा कि खिलाड़ी कौन सा फाॅर्मैट खेलना चाहते हैं। अगर वह कहीं और व्यस्त हैं तो उन्हे पहले बताना होगा। पहले खिलाड़ी पर निर्भर करता था लेकिन अब लिखकर देना होगा।’ आस बार आईपीएल में शाकिब अलग हसन को कोलकाता नाइटराइडर्स ने 3.2 करोड़ रुपये खर्च करके खरीदा है। 



Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।