शिवसेना ने कहा, कोरोना वायरस के संकट से ताली बजाकर, दीया जलाकर नहीं निपटा जा सकता

कोरोना वायरस से लड़ाई के खिलाफ पीएम मोदी ने लोगों का मनोबल बढ़ाने के लिए, बीते रविवार दीया जलाने की अपील की थी। इससे पहले भी जनता कर्फ्यू के मौके पर उन्होंने ने थाली-ताली बजाने को कहा था।

मंगलवार को शिवसेना दवारा कहा गया है कि, कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग को ताली बजाकर, थाली पीटकर या दीए जलाकर नहीं जीता जा सकता। शिवसेना के ’ में प्रकाशित एक संपादकीय में पार्टी ने कहा कि लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का “गलत अर्थ” निकाला।

पार्टी ने कहा है कि मोदी को साफ-साफ कहना चाहिए वह देशवासियों से क्या उम्मीद करते हैं और जो लोग आदेश का पालन नहीं करेंगे उनको सजा दी जानी चाहिए। मोदी ने राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच पिछले हफ्ते लोगों से कोरोना वायरस को हराने के लिए रविवार रात नौ बजे नौ मिनट के लिए घरों की लाइट बंद करने की अपील की थी।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …