सीतामढ़ी: हिंसक झड़प में मुस्लिम बुजुर्ग को जिंदा जलाने के मामले में पुलिस ने 13 आरोपी को किया गिरफ्तार

0
51

बिहार: पिछले 20 अक्टूबर को बिहार के सीतामढ़ी में जुलूस को लेकर दो समुदायों के बीच हुई हिंसक झड़प में जैनुल अंसारी (82) को जिंदा जलाकर मार दिया गया था। जिसमे अब पुलिस ने 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। 6 अन्य की तलाश जारी है। गिरफ्तार किये गए 13 लोगो में वह भी शामिल है जो हत्या के समय जैनुल अंसारी का हाथ पकडे हुये है।

दरअसल, दशहरा के एक दिन बाद यानि 20 अक्टूबर के दिन दुर्गा मूर्ति विसर्जन के जुलुस को सीतामढ़ी के मुस्लिम बहुल इलाके की तरफ से ले जाने पर कथित तौर पर पत्थरबाजी हुई थी। हालाँकि जुलूस को इस इलाके से न निकालने की पहले ही पुलिस ने चेतावनी दे दी थी। लेकिन फिर भी जुलुस को मुस्लिम बहुल इलाके से निकला गया। जिसके बाद दो समुदायों में हिंसा झड़प हो गई।

उसी दिन जैनुल अंसारी (82) अपनी बहन से मिलकर आ रहे थे। जो शहर से करीब 7 किलोमीटर दूर है। हिंसक झड़प की वजह से स्थिति तनावपूर्ण थी तब स्‍थानीय लोगों ने उन्‍हें न जाने की सलाह भी दी थी। लेकिन उन्होंने कहा की बुजुर्ग व्‍यक्ति का कोई क्‍या करेगा और वह साइकिल से घर वापस आ रहे थे। कुछ घंटों के बाद उनका जला हुआ शव बरामद हुआ। जिसमे दोनों बांहें और पैर बुरी तरह जले हुए थे।

सीतामढ़ी पुलिस ने इस मामले में अब जाकर 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन 13 लोगों में छोटू राउत नामक व्यक्ति भी शामिल है जो बुजुर्ग की हत्या के समय हाथ पकड़े हुए दिखा था। वही सीतामढ़ी टाउन थाने के इंचार्ज शशिभूषण सिंह ने बताया की, छोटू राउत नामक वह व्यक्ति ही जो वीडियो में घटनास्थल गौशाला चौक के पास जैनुल अंसारी का हाथ पकड़े हुए दिख रहा था। हमें इसी जगह से बुजुर्ग का जला हुआ शव बरामद हुआ था।

थाने के इंचार्ज शशिभूषण सिंह ने आगे कहा की, इस घटना का मास्टरमाइंड कोई और हो सकता है जो उस समय देखा नहीं गया। वैसे गिरफ्तार किए गए सभी युवकों की उम्र 20 साल के आसपास है सभी वही के रहने वाले है। और सभी बेरोजगार हैं। साथ ही इनका इससे पहले कोई अपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। अभी पुलिस वीडियो और फोटो के जरिये 6 अन्य लोगों की भी तलाश जारी है।

वही जैनुल अंसारी के बेटे अशरफ ने बताया की, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मेरे पिता की उम्र 35 साल लिख दी गई है। इसमें सुधार के लिए मैंने पुलिस से संपर्क किया है। पुलिस ने इस मामले में कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। लेकिन पुलिस को इस घटना के मास्टरमाइंड की तलाश करनी चाहिए।

जब इस बारे में थाना इंचार्ज शशिभूषण सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा की, हमने जैनुल अंसारी के डीएनए सैंपल को कन्फर्म करने के लिए लैब को भेज दिया है। हम पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सुधार कर लेंगे। डॉक्टर को अंसारी की उम्र 85 साल लिखने के लिए कहा गया था, लेकिन गलती से उसने 35 साल लिख दिया है।

loading...