अपनी शादी के लिए नहीं मिली छुट्टी तो, SSP के बॉडीगार्ड ने गर्दन में मारी 3 गोली ‘मौत’

दरभंगा के एसएसपी बाबू राम के गार्ड चिंटू पासवान ने मंगलवार सुबह आत्महत्या कर ली। उसने राइफल से अपने गर्दन में तीन गोली मार ली। घटना एसएसपी आवास की है। गोली चलने की आवाज सुन साथी पुलिसकर्मी पहुंचे तो देखा कि चिंटू के गले से तेजी से खून बह रहा है। पुलिसकर्मियों ने खून बहना रोककर चिंटू को बचाने की कोशिश की, लेकिन वे कामयाब न हो सके। चिंटू ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

चिंटू ने आत्महत्या क्यों की पुलिस की ओर से अभी तक इस संबंध में आधिकारिक रूप से कुछ बताया नहीं गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। जानकारी के अनुसार चिंटू अपनी शादी के लिए छुट्टी न मिलने से परेशान था। 24 जून को उसकी शादी होने वाली थी।

उसने छुट्टी के लिए आवेदन दिया था। एसएसपी बाबूराम कोरोना संक्रमण के चलते आइसोलेशन में हैं। उनकी जगह सिटी एसपी योगेंद्र कुमार एसएसपी का चार्ज संभाल रहे हैं। चिंटू की आत्महत्या के बाद पुलिस महकमे में खलबली मच गई है। अब चिंटू के छुट्टी वाले आवेदन की तलाश हो रही है। चिंटू एक सप्ताह से छुट्टी के लिए गुहार लगा रहा था।

21 साल का चिंटू अरवल जिले के बंसी थाना क्षेत्र के माली गांव का रहने वाला था। उनके पिता का नाम रामचंद्र पासवान है। 31 जुलाई 2018 को उसकी ज्वाइनिंग हुई थी। घटना की सूचना चिंटू के परिजन को दे दी गई है। (राकेश कुमार नीरज की रिपोर्ट)

Check Also

वाराणसी: मास्क के लिए टोकने पर भाजपा नेता और बेटों ने दरोगा-सिपाहियों को पीटा

वाराणसी: ऐसा लग रहा है जैसे पुलिस का डर ही लोगों के जेहन से खत्म …