देवकी नंदन ठाकुर का बयान- राम मंदिर के लिए मान जाये मुसलमान, देंगे एक…

0
153

उत्तर प्रदेश: SC/ST Act में फेरबदल करने को लेकर केंद्र सरकार की तीखी आलोचना करने वाले कथावाचक देवकी नंदन ठाकुर एक बार भी सुर्खियों में है। इस बार अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर चर्चा में है।

दरअसल, इन दिनों देवकी नंदन ठाकुर उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में कथा कहने के लिए मौजूद है। जहाँ राम मंदिर निर्माण के लिए कानपुर के मोतीझील से लेकर आनंदेश्वर मंदिर तक देवकी नंदन ठाकुर ने पदयात्रा निकाली है। पदयात्रा के बीच वहाँ मौजूद पत्रकरो से बातचीत करते हुये देवकी नंदन ठाकुर ने कहा कि अगर मुस्लिम पक्ष मान ले की अयोध्या राम की है और वहां राम मंदिर ही बनना चाहिये तो मुझे अगर अपनी पूरी जिंदगी लगानी पड़े तो भी उनके लिए एक अच्छी सी मस्जिद बनवाकर दूँगा।

उन्होंने आगे कहा की, हम सुप्रीम कोर्ट तक अपनी बात पहुँचाना चाहते है। हम 70 साल से राम मंदिर निर्माण का प्रतीक्षा कर रहे है। हम लोग सनातन धर्म में विश्वास रखते हैं। प्रेम और सद्भाव से अपनी बात रखते हैं। सुप्रीम कोर्ट हमें सिर्फ एक समय बतादे की और कितनी प्रतीक्षा करनी पड़ेगी। सभी लोग तो सुप्रीम कोर्ट में अर्जी नहीं दे सकते है। इसीलिए हम सभी मिलकर पदयात्रा पर जा रहे हैं। इसे पदयात्रा को सुप्रीम कोर्ट की अर्जी ही समझ ले।

इसके अलावा उन्होंने कहा की, हम लोग भारत में रहते है और भारत का संविधान है की हमारे यहां भावनाओं की क़द्र है, हमारे यहां धर्म की मान्यता है। अयोध्या में जितने सबूत मिले हैं क्या वो राम मंदिर बनाने के लिए कम है। क्या यह हमें बताना पड़ेगा की राम अयोध्या में आये थे। वाल्मीकि रामायण राम का उल्लेख है यह क्या सबूत कम है। इसके अलावा उनके सबूत पुराण है और जो तथ्य मिले हैं वो भी राम जी के पक्ष में पाये गए हैं।

पदयात्रा के दौरान श्रद्धालुओं की संख्या काफी ज्यादा थी। इस पदयात्रा में पनकी हनुमान मंदिर के महंत श्रीकृष्ण दास करीब पांच हजार महिलाओं, बच्चों और युवाओं के साथ शामिल हुये थे। पदयात्रा में शामिल सभी के हाथो में मंदिर बनाने के नारे लिखे हुए थे।

ताज़ा अपडेट पाने के लिए आप इस लिंक को क्लिक करके हमारे फेसबुक पेज को लाइक कर सकते है

loading...