IMA पोंजी स्कीम घोटाले में आरोपी रहे निलंबित IAS अधिकारी विजय शंकर ने घर में किया सुसाइड

बेंगलुरु के चर्चित आई मॉनेटरी एडवाइजरी (IMA) पूंजी घोटाले मामले में आरोपी रहे आईएएस अधिकारी विजय शंकर ने अपने बेंगलुरु आवास पर मंगलवार शाम सुसाइड कर लिया। बतादे की घोटाले में शामिल होने के बाद विजय शंकर को निलंबित कर दिया गया था।

पिछले साल ही घूस लेने के आरोप में एसआईटी ने विजय शंकर को गिरफ्तार किया था कि बाद में उन्हें जमानत मिल गई थी। सीबीआई ने सितंबर 2019 में IMA स्कीम घोटाले में आरोपी मंसूर खान के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।

वही जांच एजेंसी सरकार के कहने पर 30 आरोपियों के खिलाफ 30 अगस्त 2019 को एक मामला दर्ज किया था सूत्रों का कहना है कि साजिश, धोखाधड़ी और बेईमानी कर संपत्ति की डिलीवरी के लिए बेंगलुरु की अदालत के समक्ष आरोप पत्र दायर किया गया था।

वहीं सीबीआई ने पीडी कुमार, कार्यकारी अभियंता, बेंगलुरु विकास प्राधिकरण के खिलाफ 5 करोड़ के हेरफेर को लेकर दूसरा मामला 1 सितंबर 2019 को दर्ज किया था। सीबीआई जांच से पहले आईएमए घोटाले की जांच कर्नाटक पुलिस की एसआईटी द्वारा की जा रही थी। एसआईटी ने 19 जुलाई 2019 को मंजूर खान को अपनी हिरासत में लिया था।

Check Also

वाराणसी: मास्क के लिए टोकने पर भाजपा नेता और बेटों ने दरोगा-सिपाहियों को पीटा

वाराणसी: ऐसा लग रहा है जैसे पुलिस का डर ही लोगों के जेहन से खत्म …