तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद फरार, पुलिस ने की तलाश जारी देश के कई हिस्सों में छापेमारी

तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है, इस समय पुलिस उसके 6 साथियों को भी खोज रही है, जिनके खिलाफ निजामुद्दीन थाने में केस दर्ज किया गया है। देश के कई हिस्सों में पुलिस टीम उनकी तलाशी में जुटी हुई है, पूरे मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच कर रही है।

इस बीच कहा जा रहा है कि, मौलाना मोहम्मद साद आज शाम 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाला है, और वह अपने भाई के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगा। लेकिन अभी साफ नहीं है कि प्रेस कॉन्फ्रेंस की लोकेशन क्या होगी। इस बीच मौलाना की तलाश में उत्तर प्रदेश के शामली से दिल्ली तक छापेमारी की जा रही है।

आपको बता दें कि, दिल्ली में बुधवार तक कोरोना मरीजों का आंकड़ा 152 तक जा पहुंचा, जिनमें 32 केस सिर्फ बीते 24 घंटे में बढ़े हैं। दिल्ली सरकार के अनुसार कुल 152 कोरोना मरीजों में 53 का कनेक्शन तबलीगी जमात से है, जमात के जलसे में करीब 6 हजार लोग शामिल हुए थे। कई प्रदेशों में जमात में शामिल लोग कोरोना पॉजिटिव निकले हैं।

तबलीगी जमात के मरकज पर देश के अलग- अलग राज्यों में गए. दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, ओडिशा, तेलंगाना, तमिलनाडु, कर्नाटक, केरल, असम, मेघालय, अंडमान समेत तमाम राज्य सरकारों ने जलसे में शामिल 5 हजार जमातियों को ढूंढ निकाला है.

इन्हें अलग- अलग राज्यों में क्वारंटीन कर दिया गया है, लेकिन अभी भी १०० से अधिक ऐसे हैं जिन्हें ढूंढना बाकी है. मरकज के मौलाना साद के बारे में बताया जा रहा है कि वो दिल्ली ही छुपा बैठे है। दिल्ली में उसके दो घर हैं, एक हजरत निजामुद्दीन बस्ती और दूसरा जाकिर नगर में मौजूदा है।

Check Also

लूडो खेलते-खेलते हुआ 10 लाख रुपए का कर्जदार, जब दोस्तों ने पैसा मांगना किया शुरू तो

कहावत है कि, इंसान को कभी किसी चीज की लत नहीं लगानी चाहिए। गुजरात में …