रिपब्लिक चैनल की AMU में एंट्री पर रोक, आपत्तिजनक टिप्पणी के साथ जोड़ा था आतंकवाद से?

0
82
Loading...

उत्तर प्रदेश: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) में अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक के पत्रकारों और कैमरामैन को दाखिल होने पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है। यह फैसला विश्वविद्यालय के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी और AMU को कथित तौर पर आतंकवाद से जोड़कर दिखाये जाने के बाद लिया गया है।

वही घटना के बाद इस घटना के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने अलीगढ़ पुलिस के वहाँ दो अलग अलग शिकायतें दर्ज कराई। जिसमे बिना परमिशन के कैंपस में आने पर एफआईआर दर्ज करने तथा कुछ अनजान शरारती तत्वों पर आगजनी और गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त होने का आरोप लगाया। वही पत्रकारों का कहना है की रिपोर्टिंग के दौरान पहले विश्वविद्यालय छात्रों ने उनसे बदसलूकी की। पत्रकारों के अनुसार, जिस स्टोरी की विश्वविद्यालय कैंपस में शूटिंग चल रही थी। उसका अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से कोई लेनादेना नहीं है।

वही इस मामले पर अलीगढ़ के डीएम सीएम सिंह ने बताया की, यह एएमयू का अंदरूनी मामला है। आगे कहा, ‘हमने विश्वविद्यालय प्रशासन से इस मामले में निष्पक्ष जांच करने और उसी के मुताबिक कदम उठाने के लिए कहा है। दोषी लोगों के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं में ऐक्शन लिया जाएगा।’

वैसे अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का नाम मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो लगाने को लेकर भी विवादो में आ चूका है। कुछ समय पहले एएमयू में तिरंगा यात्रा निकालने के आरोप में कुछ एएमयू छात्रों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। जिसको लेकर इलाके के बीजेपी सांसद इसकी शिकायत एचआरडी मंत्रालय से करने की बात कही थी। बतादे की वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी रिपब्लिक टीवी को पेश करते है। और जल्द ही उन्होंने हिंदी चैनल रिपब्लिक भारत भी लॉन्च किया है।

Loading...