महामारी में राशन, दवा और दूसरी तरह की सहायता का मानक केवल गरीबी नहीं है- पीपुल्स एलायंस’

आजमगढ़ 1 अप्रैल 2020। कई तरह की दिक्कतों के चलते बहुत से लोग अपना पैसा बैंकों से नहीं निकाल सके हैं तो कई परिवार खरीदारी नहीं पाए हैं। गांवों में सहायतार्थ तैयारियों के बढ़ते रुझान को देख कर हिम्मत बढ़ती है।

हमारे गांव में संजरपुर में दूसरा राशन आपूर्ति केंद्र राहत संजरी के नेतृत्व में मुख्यमार्ग पर अपना काम शुरू कर चुका है। साथ ही दूर दूर से पैदल जाने वालों को पानी पिलाने (हमारी संस्कृति में कुछ खिलाकर पानी पिलाने को पानी पिलाना कहते हैं) और वितरण में मदद करने के लिए आबिद इकबाल और सदरे आलम गुड्डू पूरी लगन के साथ जुटे रहते हैं।

ग्राम शेरवां में भी राशन वितरण किया गया है। फरिहा में राशन वितरण के साथ मास्क का भी काम चल रहा है। ग्राम चकिया हुसैनाबाद में ज़रूरतमंदों को राशन पहुंचाने की व्यवस्था की गई है।

हमारे अपने गांव के साथ दाऊदपुर और खोदादादपुर में मास्क वितरण का काम लगभग पूरा हो गया है। महिलाओं का ज़बरदस्त योगदान है। इन दोनों गांवों में भी सिलाई का काम मुख्यतः महिलाओं ने ही किया है। कई महिलओं ने बच्चों की मांग पूरी करने के साथ ही स्वंय अपने घर के पुरूषों के लिए अपने खज़ाने के कपड़ों से मास्क बना कर दिया है।

मुसलमानों और कुछ दलितों में सिलाई का काम महिलाएं कर लेती हैं और कर भी रही हैं लेकिन मुसहर, पाल, धरकार, सोनकर आदि बिरादरियों में सिलाई का काम महिलाएं नहीं करती हैं। उन्हें सिलवा कर देना पड़ता है। बाज़ार बंद होने के कारण दर्जी की सेवा नहीं मिलने से समय लग जा रहा है।

गांव और पड़ोस के स्तर पर करीब पांच हज़ार मास्क वितरण के साथ यह काम पूरा हुआ। बाज़ार बंद हाने के कारण मास्क की एलास्टिक पूरे पूरे दिन ढूंढ कर खरीदने की ज़िम्मेदारी मो० अकरम शेरवानी उठा रहे हैं। दूसरे सामान इकट्ठा करने के लिए दौड़ भाग करने में मो० शाहिद और महेंद्र गौंड की भूमिका को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता। ऐसे ही साथियों की कर्मठता के बूते उम्मीद है कि कल प्रजापति बस्ती नव्वा गड़हां पास की एक दो छोटी बस्तियां कवर हो जाएंगी।

हमारी टीम ने तय किया है यह सिलसिला हम अपने सामर्थ्य भर आगे बढ़ाते रहेंगे। साथी तारिक शफीक ने स्थानीय पीएचसी और ब्लॉक पर कर्मियों को पूरी टीम की तरफ से मास्क भेंट किया। उन लोगों के पास मास्क नहीं था। खंडवारी में मिर्जा रिज़वान बेग राशन वितरण केंद्र बनाने की तैयारी के अंतिम चरण में है हालांकि मास्क बनवाने का काम अभी शुरू नहीं कर पाया है।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …