भरोसेमंद ने दिया धोखा, डॉक्टरों को काटने पड़े दोनों हाथ और पैर

अमेरिका के विस्कॉन्सिन के के वेस्ट वेन्ड के रहने वाले ग्रेग एम के साथ बेहद दर्दनाक घटना घटी। जिसकी वजह से डॉक्टरों ने ग्रेग के दोनों हाथ और दोनों पैर काट दिए। पत्रिका में छपी खबर के अनुसार, ग्रेग को पिछले महीने एक खतरनाक वायरस लगने के बाद अस्पताल के इमरजेंसी वॉर्ड में भर्ती किया गया था। डॉक्टरों ने बताया कि उन्हें खून का संक्रमण हो गया है जिसे कैपोनोसाइटोफेगा कैनीमोरस कहा जाता है। यह संक्रमण आमतौर पर कुत्ते बिल्ली के लार में पाया जाता है।

लेकिन यह उन्हीं व्यक्तियों के लिए खतरनाक होता है जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। खून के संक्रमण की वजह से डॉक्टरों ने ग्रेग के दोनों पैरों को घुटने से ऊपर तक काट दिया। वही ग्रेग की जान बचाने के लिए डॉक्टरों ने दोनों हाथ को भी मजबूरी में काटना पड़ा। डॉक्टर ने बताया कि अगर समय रहते इस संक्रमण को रोका नहीं जाता है तो व्यक्ति की जान चली जाती है।

इस संक्रमण की वजह से ग्रेग का चेहरा पूरी तरह से बर्बाद हो चुका था डॉक्टरों को ग्रेग की नाक की प्लास्टिक सर्जरी भी करनी पड़ी। डॉक्टरों ने बताया कि ग्रेग को संक्रमण की वजह उसका कुत्ता भी हो सकता है जो ग्रेग के पैर को चाट लिया होगा। इससे ग्रेग शरीर में संक्रमण फैल गया होगा।

साल 2003 में फ्रांस द्वारा किए गए एक रिसर्च के अनुसार यह बैक्टीरिया उन लोगों पर ज्यादा घातक साबित होती है जिनके इम्यून सिस्टम कमजोर होते हैं। वहीं साल 2014 में जापान द्वारा किए गए एक रिसर्च से जानकारी मिली है कि इस संक्रमण के फैलने वाले बैक्टीरिया 54 फ़ीसदी बिल्लियों में तथा 69 फ़ीसदी कुत्तों में पाए जाते हैं। यह बैक्टीरिया कुत्ते बिल्ली के काटने, चाटने के अलावा इनके करीब रहने से भी व्यक्ति के शरीर में प्रवेश कर सकते हैं हालांकि ज्यादातर लोगों पर इनका कोई खास असर नहीं पड़ता।

Check Also

शादी करके जिसे पति लाया घर, सुहागरात में वो निकला एक मर्द, सच्चाई जानकर चौंक गए सब

एक चौकाने वाली घटना सामने आई जिसमे सभी के होश उड़ गए। घटना इंडोनेशिया की …