कोरोना को हराने वाली महिला ने बताया खौफनाक अनुभव कहा, ऐसा लगा जैसे मैंने कांच निगल लिया हो और मुझे जलती हुई भट्टी में झोंक दिया हो

दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेज़ी से बढ़ते दिखाई दे रहे हैं, चीन से निकल का अब ये वायरस इटली और ईरान में सबसे ज्यादा तबाही मचा रहा हैं। इसी बीच ब्रिटेन की एक फोटोग्राफर 46 साल की मैंडी चार्ल्सटन ने कोरोना का से जुड़ा अपना खौफनाक अनुभव लोगों के साथ साझा किया।

दरअसल मैंडी चाल्रटन को एम्बुलेंस से न्यू कैसल के रॉयल विक्टोरिया इनफर्मरी में दाखिल किया गया था। मैंडी को पहले फीवर आया था। कोरोना संक्रमण के भयानक अनुभव को बताते हुए मैंडी ने बताया कि मुझे ऐसा लग रहा था कि मानो जलती हुई भट्टी में झोंक दिया गया हो। ऐसा महसूस हो रहा था कि उसने जैसे कांच निगल लिया हो।

फ़िलहाल मैंडी अपने ही घर में आइसोलेशन में रह रही है। अस्पताल में इलाज के बाद उनकी स्थिति कुछ बेहतर हुई। साथ ही डॉक्टर की सलाह पर पैरासिटामोल ले रही हैं। सोशल मीडिया पर पोस्ट की गई कई फोटो देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां कि हालत क्या है।

कोरोना वायरस के फैलने के कारण ब्रिटेन घूमने आए पर्यटकों को भी काफी दिक्कत झेलनी पड़ रही है। हालांकि यहां लोग तमाम सुरक्षा उपायों अपना रहे है लेकिन इसके बावजूद भी हर जगह डर का माहौल बना हुआ है। कोरोना से सुरक्षा के लिए लोग मास्क लगाने के साथ हर जरूरी एहतियात बरत रहे हैं, लेकिन वायरस का प्रकोप बढ़ता ही दिखाई दे रहा है।

ब्रिटेन में प्राथमिकता के आधार पर कोरोना संक्रमित लोगों की जांच की जा रही है। इस वायरस के फैलने की वजह से बाजारों में भीड़ कम हो गई है। आपको बता दें कि कोरोना का कोई टीके का अभी ट्रायल ही चल रहा है, इसलिए फिलहाल इसका इलाज लक्षणों के आधार पर ही किया जा रहा है।

Check Also

क्या पुलिस के डर से संबित पात्रा ने किया कोरोना का ड्रामा, सोशल मीडिया पर ऐसे बन रहे मीम्स

नई दिल्ली: अब बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा में कोरोना लक्षण सामने आने के …